सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

ये सुदर्शन का असर है : शाम 6 बजे हमने उठाया 'उज्जवला होम' में शर्मनाक घटना का मुद्दा, देर शाम हो गई संचालक पर FIR

जगी न्याय की उम्मीद, पुलिस की इस कार्रवाई के बाद अब बिलासपुर में काम करने वाले पत्रकारों समाजसेवी लोगों ने सुदर्शन न्यूज का आभार व्यक्त किया है।

योगेश मिश्रा, छत्तीसगढ़ ब्यूरो- 9329905333
  • Jan 22 2021 9:16AM

पिछले 15 वर्षों से राष्ट्रवादी समाचार चैनल सुदर्शन न्यूज़ केवल खबर ही नहीं दिखाता, बल्कि आमजन की समस्या को अपनी समस्या महसूस करते हुए राज्य और राष्ट्र की सेवा में हमेशा तत्पर रहा है और इसीलिए हमारी खबरें धरातल पर सही साबित होती हैं और उनका असर व्यापक तौर पर दिखाई देता है।



एक बार फिर सुदर्शन न्यूज़ की खबर का बड़ा असर हुआ है। हमने गुरुवार की शाम 6 बजे 'छत्तीसगढ़ में बेटियां असुरक्षित' का स्पेशल शो प्रसारित किया था, जिसमें हमने दिखाया था कि बिलासपुर के उज्वला होम में हुई शर्मनाक घटना पर किस तरह से प्रशासन और पुलिस चुप्पी साधे बैठा हुआ है, किस तरह से अब तक संचालक के ऊपर एफआईआर दर्ज़ नहीं की गई है। हमारी इस खबर पर विशेष शो के प्रसारण के तुरंत बाद ही इस मामले में उज्जवला होम के संचालक जितेंद्र मौर्य पर धारा 376 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है। साथ ही उसकी गिरफ्तारी भी की गई है।

जानकारी के अनुसार उज्ज्वला गृह बिलासपुर के संचालक के विरुद्ध गंभीर प्रकृति की शिकायत प्राप्त होने पर पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया है तथा जांच की कार्यवाही जारी है। उज्ज्वला गृह बिलासपुर का संचालन एनजीओ शिवमंगल शिक्षण समिति द्वारा वर्ष 2014 से किया जा रहा है । दिनांक 17 जनवरी की रात्रि में संस्था में निवासरत 3 महिलाओं एवं संस्था संचालक द्वारा एक दूसरे के विरुद्ध सरकंडा थाने में शिकायत दर्ज की गई है । घटनाक्रम की जांच संचालक महिला बाल विकास, संयुक्त संचालक महिला बाल विकास एवं सहायक संचालक महिला बाल विकास द्वारा जांच की गई है । महिलाओं द्वारा संस्था संचालक एवम संस्था के कर्मचारियों के विरुद्ध की गई शिकायत गंभीर प्रवृत्ति की होने के कारण उच्चाधिकारियों द्वारा त्वरित निर्णय लेते हुए संस्था में निवासरत शेष 7 महिलाओं को उनके परिजन एवम अन्य संस्था में स्थानांतरित किया गया है । इसके साथ ही वर्तमान में संस्था में किसी भी महिला के रहने पर रोक लगा दी गई है।


 

उज्ज्वला गृह बिलासपुर के संबंध में विभाग को लैंगिक उत्पीड़न सम्बन्धी कोई भी शिकायत प्राप्त नहीं हुई है । संस्था का समय समय पर अधिकारियों द्वारा निरीक्षण किया जाता रहा है। संस्था को इस वित्तीय वर्ष में अनुदान नहीं दिया गया है। 17 जनवरी की रात बिलासपुर सरकंडा स्थित उज्जवला होम में विवाद होने के पश्चात थाना सरकंडा में पीड़ितों की रिपोर्ट पर उज्जवला होम के स्टाफ द्वारा जबरदस्ती वहाँ रखे जाने, मारपीट करने इत्यादि के आरोप पर उज्जवला होम के स्टाफ के खिलाफ अपराध क्रमांक 79/21 धारा 342, 294, 323 आईपीसी की एफआईआर दर्ज कर विवेचना प्रारंभ की गई थी। 4 महिलाओं का आज कोर्ट में 164 का बयान दर्ज कराया गया। बयान में धारा 376 और 354 आईपीसी के कंटेंट आने पर जितेंद्र मौर्य के खिलाफ धाराएं जोड़कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। ऐसे में गुरुवार को इस मामले में बड़ी कार्रवाई हुई है।


हमने गुरुवार को अपने शो के दौरान बिलासपुर के जानेमाने सामाजिक कार्यकर्ता विकास सिंह, पत्रकार मनीष शरण को लाइव टेलीकास्ट के जरिये ग्राउंड रिएलिटी जानने और देश को दिखाने का प्रयास किया था। ऐसे में हमने जमीनी सवालों को इस कार्यक्रम में प्रमुखता से उठाया था। ऐसे में पुलिस की इस कार्रवाई के बाद अब बिलासपुर में काम करने वाले पत्रकारों समाजसेवी लोगों ने सुदर्शन न्यूज का आभार व्यक्त किया है और कहा है कि अगर सुदर्शन न्यूज़ प्रमुखता से सच्चाई को नहीं दिखाता, तो शायद इस मामले में यूं ही कार्यवाही नहीं होती। ऐसे में सुदर्शन न्यूज़ ने एक बार फिर अपनी जिम्मेदारी का बखूबी निर्वहन किया है।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार