सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

खाड़ी देशों में भारत की महिलाओं को बेचने वाले का नाम अतीकुर्रहमान और मुज़म्मिल निकला...

नौकरी का झांसा देकर वर्षों से महिलाओं को खाड़ी देश भेज रहे थे अतीकुर्रहमान और मुजम्मिल

Shiv Kumar
  • Apr 14 2021 6:27PM
आज के समय में रोजगार की स्थिति को देकते हुए, लोगो रोजगार देने की बात करने वाले किसी भी इन्सान पर विश्वास कर लेते हैं। पर यही समुदाय विशेष से आने वाले जिहादी इस में भी अवसर ढूंढ ही लेते हैं। ये हैवान महिलाओं की मजबूरी का ना-जायज लाभ उठातें हैं, उन्हें नौकरी का झांसा देकर खाड़ी देशों में नर्क का जीवन जीने के लिए तस्करी कर देतें हैं।  

दरअसल उत्तर प्रदेश के कानपुर में दो ऐसे मानव तस्करों की गिरफ्तारी हुई है, जो कई वर्षों से महिलाओ को नौकरी के नाम पर खाड़ी देशों में भेज रहे थे। जहां उनका जीवन नर्क से भी ज्यादा खरनाक गुजर रहा था। दरअसल क्राइम ब्रांच ने मंगलवार दो मानव तस्करों को गिरफ्तार किया है जो नौकरी का झांसा देकर महिलाओं को ओमान, कतर, कुवैत, सऊदी अरब आदि खाड़ी देशों में भेजने का काम करते थे। आरोपितों ने बताया है कि उन्होंने एक वर्ष में 19 महिलाओं को खाड़ी देशों में भेजा है।

दरअसल उन्नाव कांशीराम कॉलोनी निवासी राजमिस्त्री रामू ने कर्नलगंज थाने में शिकायत दर्ज कराई थी जिसमें कहा था कि कॉलोनी की एक महिला ने कर्नलगंज निवासी अतीकुर्रहमान और इफ्तिखाराबाद निवासी मुजम्मिल से पत्नी की पहचान कराई थी अतीकुर्रहमान ने उनकी पत्नी को ओमान के अस्पताल में नौकरी लगवाने का झांसा दिया। 40 रुपये रामू से लेकर पत्नी का पासपोर्ट बनवाया टूरिस्ट वीजा पर पत्नी व दूसरी महिला को ओमान भेज दिया ।

रामू ने बताया कि कुछ दिन बाद रामू के पास पत्नी का फोन आया। उन्होंने बताया कि ओमान में एक कफील के छह मंजिला घर पर बंधक बनाकर रखा है। फोन, पासपोर्ट छीन लिया है। विदेशियों के घरों पर जबरन काम कराते हैं और शारीरिक शोषण भी हो रहा है। रामू ने अतीकुर्रहमान व मुजम्मिल से पत्नी को वापस बुलाने के लिए कहा तो आरोपितों ने टिकट के 22 हजार रुपये मांगे। जो देने के बाद उससे फिर एक लाख रुपये मांगे गये, नहीं देन पर पत्नी को जान से मारने की धमकी भी दी। 

क्राइम ब्रांच की ओर से कहा कि अतीकुर्रहमान व मुजम्मिल कई वर्षों से महिलाओं को खाड़ी देश भेज रहे थे। जहां बंधक बनाकर उनका शोषण किया जा रहा है। पिछले एक वर्ष में उन्नाव की सात, कानपुर नगर की 11 व गुजरात की एक महिला को उन्होंने ओमान के मस्कट, कतर, कुवैत व सऊदी अरब भेजा है। समाज में अतीकुर्रहमान व मुजम्मिल जैसे जिहादी लोगों की मजबूरी का लाभ उठाकर हैवान बना जाते हैं। जो एक पूरे परिवरा को ही बर्बाद कर देतें हैं।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

1 Comments

logo se yahi aapil karate hai ki kisi ke jhase me aa kar turant nirnay na le.en suwaro ke sari network nistanabut kar diya jay aur enki sari sampati japt kar liya jaye.

  • Guest
  • Apr 15 2021 11:29:17:377AM

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार