सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

अब्दुल रहमान आखिरकार भेज दिया गया जेल क्योंकि उस हवसी दरिंदे निशाने पर थी एक नाबालिग

नाबालिग लड़की का यौनशोषण कर धर्मपरिवर्तन का दवाब बना रहा था अब्दुल रहमान , उत्तर प्रदेश पुलिस ने भेजा जेल

Khiladi
  • Jan 27 2021 3:50PM


उतर प्रदेश में धर्मपरिवर्तन कानून बनने के बाद भी आने वाले केस में कोई कमी नहीं आ पा रही है, लगातर जिहादी हिन्दू लड़कियों के साथ यौनशोषण  कर उनको धर्म परिवर्तन करने की जबरदस्ती कर रहे है , ताजा मामला उत्तर प्रदेश के ही बलिया जिले से आया है जहां एक जिहादी पिता पुत्र ने लड़की के साथ यौनशोषण का वीडियो बना कर धर्म परिवर्तन का दवाब बना रहे थे, दरअसल 13 जून को पीड़ित लड़की घर पर  अकेली थी,मौके का फायदा उठाकर जिहादी अब्दुल रहमान हिंदू लड़की के घर में  घुस गया , जिसके बाद उसने  लड़की के साथ जबरन दुष्कर्म कर उसका वीडियो बनाया ,इसकी जानकारी जब लड़की ने अपने माता पिता को दी ,जिसके पिता ने इसकी जानकारी बलिया के सदर थाने  को दी,पुलिस ने जानकारी को जल्द संज्ञान में लेते हुए आरोपी के खिलाफ पॉक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया है ,जिसके बाद बलिया से भागने की फ़िराक में आरोपी पिता पुत्र  रेलवे स्टेशन पहुंचे थे 


,जिसको पुलिस ने सूचना के साथ पकड़कर जेल में भेज दिया है ,सदर कोतवाल विपिन सिंह ने बताया कि कहीं भागने की फिराक में ट्रेन पकड़ने के लिए रेलवे स्टेशन पहुंचे पुत्र अब्दुल रहमान उर्फ गोलू व  पिता मोहम्मद कलीम हबीब को पकड़ लिया गया है. जिसके बाद उन्हें जेल में भेज दिया है ,उन्होंने आगे कहा की आगे की कार्रवाई जांच के बाद  की जाएगी ,आपको बता दे कि उतर प्रदेश में  ब्लैकमेल की आड़ में  हिन्दू धर्म की लड़कियों को धर्मपरिवर्तन कराने के कुछ जिहाद मानशिकता के लोग  दवाब बनाते थे ,लेकिन उनके भितरघात को चोट पहुंचने के लिए योगी सरकार ने धर्मपरिवर्तन  के खिलाफ  कानून बनाया था ,इसके बावजूद भी उत्तर प्रदेश धर्मपरिवर्तन कराने वाले लोगो की अक्ल ठिकाने नहीं आ रही है

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

0 Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार