सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सहयोग करे

Donation

दिल्ली में 15 दिनों में बढ़ गए 1700 से ज्यादा कंटेनमेंट जोन

एक हफ्ते के दौरान ही 450 से अधिक कंटेनमेंट जोन बन चुके हैं। अब राजधानी में एक्टिव कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़कर 4430 हो गई है।

Abhishek Lohia
  • Nov 23 2020 11:38PM

राजधानी में पिछले कुछ दिनों से जिस तरह कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है उसी हिसाब से कंटेनमेंट जोन भी लगातार बढ़ रहे हैं। एक हफ्ते के दौरान ही 450 से अधिक कंटेनमेंट जोन बन चुके हैं। अब राजधानी में एक्टिव कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़कर 4430 हो गई है। पंद्रह दिन पहले तक कंटेनमेंट जोन की संख्या 2700 के करीब थी।

राजधानी के दो जिलों में एक्टिव कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़कर 700 के पार हो गई है। साउथ-वेस्ट जिला अब भी कंटेनमेंट जोन के मामले में टॉप पर है। यहां एक्टिव कंटेनमेंट जोन की संख्या 740 है। द्वारका, साध नगर, राज नगर, नजफगढ़, जनकपुरी आदि एरिया में लगातार कंटेनमेंट जोन सामने आ रहे हैं।

साउथ दिल्‍ली में एक्टिव कंटेनमेंट जोन 700 हुए
साउथ दिल्ली में भी अब एक्टिव कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़कर 700 हो गई है। कंटेनमेंट जोन में रहने वालों को दिवाली के बाद अब छठ पूजा भी लॉकडाउन में ही मनानी होगी। ऐसे में कुछ जगहों पर नए कंटेनमेंट जोन बनाने का विरोध भी प्रशासन को सहना पड़ रहा है।

प्रशासन के अनुसार, कंटेनमेंट जोन अधिक बनाने के पीछे यही मकसद है कि कोरोना पॉजिटिव लोगों की ठीक से निगरानी हो सके और संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। कंटेनमेंट जोन के मामले में तीसरे नंबर पर पश्चिमी दिल्ली का स्थान है, जिसमें 568 कंटेनमेंट जोन एक्टिव हैं। चौथे नंबर पर साउथ-ईस्ट दिल्ली है जहां अब एक्टिव कंटेनमेंट जोन 505 हैं।

सबसे कम कंटेनमेंट जोन नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में
सबसे कम कंटेनमेंट जोन अब भी नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में हैं। यहां एक्टिव कंटेनमेंट जोन की संख्या 142 है। ईस्ट दिल्ली में एक्टिव कंटेनमेंट जोन की संख्या 180 है। दिल्ली की बात करें तो कोरोना काल में अब तक 9333 कंटेनमेंट जोन बन चुके हैं। मार्केट में लगातार कोरोना की जांच की जा रही है। वेस्ट दिल्ली के मार्केटों में लगातार पॉजिटिव व्यापारी सामने आ रहे हैं।

सहयोग करें

हम देशहित के मुद्दों को आप लोगों के सामने मजबूती से रखते हैं। जिसके कारण विरोधी और देश द्रोही ताकत हमें और हमारे संस्थान को आर्थिक हानी पहुँचाने में लगे रहते हैं। देश विरोधी ताकतों से लड़ने के लिए हमारे हाथ को मजबूत करें। ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहयोग करें।
Pay

ताज़ा खबरों की अपडेट अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करे सुदर्शन न्यूज़ का मोबाइल एप्प

Comments

संबंधि‍त ख़बरें

ताजा समाचार