Breaking News:

पाकिस्तान परस्त सिद्धू को एक राष्ट्रप्रेमी क्रिकेटर का ऐसा जवाब जिसे सुन कर हर कोई बोल उठा- “वाह”

एकतरफ जहाँ देश भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी जी के निधन के गम में डूबा हुआ था तथा उनको अंतिम विदाई दे रहा था, ठीक उसी समय कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू इमरान खान के शपथ गृहण में शामिल होने पाकिस्तान गये हुए थे. यही पाकिस्तान जाकर सिद्धू ने जो किया उसकी किसी ने कल्पना अटक नहीं की थी. सिद्धू गये थे इमरान के शपथ ग्रहण में लेकिन वहां जाकर न सिर्फ पाकिस्तान के आर्मी चीफ के गले लगये बल्कि POK के तथाकथित राष्ट्रपति के बगल में भी बैठ गये.

पाकिस्तान जाकर सिद्धू के इस कारनामे के बाद सिद्धू की जमकर आलोचना हो रही है तथा खुद पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सिद्धू के कृत्य को गलत बताया है. अब पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने भी सिद्दू के इस कदम पर उनको जमकर लताड़ लगाई है. एक टेलीविजन चैनल के शो में इस मामले पर बात करते हुए वीरेंद्र सहवाग ने कहा कि उन्हें (नवजोत सिंह सिद्दू) को ऐसा नहीं करना चाहिए था. सिद्धू पर तीखा हमला बोलते हुए सहवाग ने कहा कि मैं राजनेता नहीं हूं, मैं एक आम इंसान हूं लेकिन यदि मुझे कोई बुलाता तो मैं वैसे लोगों से दूरी बना के रखता. वीरेन्द्र सहवाग ने कहा कि हम पाकिस्तान जाते भी तो एक उचित दायरा बनाकर रखते क्योंकि हम जान रहे है कि ऐसा करने से देश के हर नागरिक को दुख होगा.

एक समय दुनिया के सबसे खूंखार बल्लेबाज रहे सहवाग ने कहा कि हर दिन हम अखबार में पढ़ते हैं कि सीमा पर हमारे जवान शहीद होते हैं. कोई परिवार वाला अपनों को गंवा देता है ऐसे में कोई कैसे पाकिस्तान के आर्मी चीफ से गले मिल सकता है. बता दें कि नवजोत सिंह सिद्दू ने न केवल पाकिस्तान सेना प्रमुख बाजवा से गले मिलाया.  बल्कि उन्हें पाक अधिकृत कश्मीर के राष्ट्रपति के साथ भी बैठाया गया था. सहवाग ने साल 2004 में पाकिस्तान दौरे पर भारतीय टीम के वाकये को याद करते हुए कहा कि उस दौरान हम इस बात का खास खयाल रखते थे कि हम ऐसे किसी इंसान से न मिलें जिनसे मिलने के बाद देश में माहौल खराब हो जाए. सहवाग ने आगे बताया कि उस दौरान पाकिस्तान के राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ से मिलने के लिए भारतीय टीम गई थी. लेकिन उनसे हमने सिर्फ हाथ मिलाया था गले नहीं मिले थे तथा सिद्धू ने गलत किया है.

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *