हेडमास्टर नशरुद्दीन की नजर गई कक्षा 6 की बच्ची पर… फिर हुआ कुछ ऐसा कि फ़ैल गया इलाके में तनाव

ये बिलकुल सत्य है कि स्कूल शिक्षा का वो मंदिर है जहां बच्चों के उज्ज्वल भविष्य की तकदीर लिखी जाती है. कहा जाता है कि शिक्षक बच्चे के भविष्य के निर्माता होते हैं लेकिन क्या हो कि जिस शिक्षक पर बच्चों के भविष्य को गढ़ने की जिम्मेदारी है वही शिक्षक बच्चों की अस्मिता से खेल जाए. वो मासूम बच्ची जो उसको सर बोलती लेकिन वही सर उस मासूम के बचपन को अपनी हवस की भूख में कुचलना चाहे तो उसको क्या कहा जाए?

मामला उत्तर प्रदेश के नपुरी जिले के भोगांव का है. जहां पूर्व प्राथमिक विद्यालय माधौ नगर के हेडमास्टर नशुरूद्दीन ने अपने ही स्कूल में पढ़ने वाली कक्षा 6 की छात्रा के साथ छेड़झाड़ व अश्लील हरकत की. परिजनों ने बताया कि बच्ची जब स्कूल से घर लौटी तो काफी परेशान थी. परिवार के पूछने पर उसने बताया कि कल स्कूल में मुझे सलवार मिली थी जो नाप में थोड़ी छोटी थी. जब ये बात बताने टीचर के पास गई तो उन्होंने मेरे साथ छेड़झाड़ करते हुए अश्लील हरकतें की. जिससे मेरे सीने में दर्द भी हो रहा है. बच्ची के परिजनों ने बताया कि उन्होंने बच्ची से जब पूरा मामला जाना तो उनके पैरो तले जमीन खिसक गयी. परिवार ने बच्चे की बात पर गौर करते हुए स्कूल टीचर की शिकायत थाना भोगांव में की तो पुलिस ने मामले को बेहद गंभीरता से लेते हुए जांच पड़ताल की तो सही मामला पाया.

इसके बाद पुलिस ने मुकद्दमा दर्ज कर आरोपी टीचर को जेल भेज दिया. लेकिन मैनपुरी के पूर्व माध्यमिक विद्यालय में छात्रा के साथ हैडमास्टर की गलत हरकत के बाद से क्षेत्र में तनाव  पैदा हो गया. देखते ही काफी भीड़ इकट्ठी हो गयी तथा स्थिति बिगड़ने लगी.  जैसे तैसे पुलिस ने आक्रोशित लोगों को समझाया तथा कानून व्यस्था को बनाए रखने का अनुरोध किया. वहीं मामले में आरोपित को बीएसए ने निलंबित कर दिया और विभागीय जांच के आदेश दिए हैं

Share This Post

Leave a Reply