एक हत्यारे के लिए खड़े हो रहे है वो सारे हत्या समर्थक जिन्हे हमीद अंसारी जैसे लोग प्यार से पुकारते है ‘छात्र’

अलीगढ मुस्लिम विश्वविधालय के प्रॉक्टर आफिस में आगजनी एवं डबल मर्डर के आरोपियों के बचाव छात्र संघ ने कैंपस में मार्च निकाला और आरोपी जफर

समेत कुछ अन्य आरोपियों पर प्रशासन द्वारा गुंडा एक्ट लगाए जाने की निंदा की।

एएमयू छात्र संघ के पूर्व सचिव नबील उस्मानी के नेतृत्व में छात्रों ने मौलाना आजाद लाइब्रेरी परिसर से बाब-ए-सैयद गेट तक मार्च निकाला। नबील उस्मानी का

कहना है कि 23 अप्रैल 2016 की प्रॉक्टर आफिस में आगजनी एवं डबल मर्डर मामले में आरोपी हसन खान, ओसामा खान, जफर एवं सादिक को उत्तर प्रदेश

पुलिस परेशान कर रही है।

 इधर प्रशासन का कहना है कि किसी को परेशान नहीं किया जा रहा है न्यायसंगत कारवाही की जा रही है छात्र संघ व कुछ अन्य लोगों दव्रारा प्रशासन पर लगाये

 आरोप झूठ का पुलिंदा भर हैं जफर एवं अन्य कई गंभीर अपराधों में शामिल हैं इसलिए इन पर गुंडा एक्ट लगाया जा रहा है। पुलिस के काम में बाधा डालने की

कोशिश ना करें ।छात्रों से अपील है कि पढाई पर ध्यान दें अनैतिक कामों से बचें ।
छात्र संघ ने जिलाधिकारी को दिये गये ज्ञापन में छात्रों ने जफर पर लगाए जा रहे गुंडा एक्ट को वापस लेने, हसन, ओसमा, जफर व सादिक पर बनाए जा रहे

अवैध प्रेशर पर रोक लगाने की मांग की है।

Share This Post

Leave a Reply