जिन जिन बच्चों ने तिलक लगाया था उसको पोंछ डाला गया उस स्कूल में.. रोते बच्चे घर पहुंचे तो खड़ा हुआ बवाल

धर्मनिरपेक्षता के राजनैतिक नारों की हकीकत क्या है इसका उदहारण उत्तर प्रदेश  के मेरठ से सामने आया है जहाँ एक स्कूल के छात्र ने तिलक लगाया तो स्कूल के शिक्षक भड़क उठे. छात्रा का तिलक लगाना स्कूल प्रशासन को इतना नागवार गुजरा कि तिलक लगाने वाले छात्रों को अपराधी घोषित कर दिया गया तथा जिन जिन छात्रों ने तिलक लगाया था उन सबका तिलक पौंछ डाला गया.

मामला मेरठ के सरधना नगर स्थित संत चार्ल्स इंटर कॉलेज का है जहाँ एक शिक्षक ने कुछ छात्रों का तिलक हटवा दिया तथा छात्रों के साथ अभद्रता की. खबर  के मुताबिक, सरधना के संत चार्ल्स इंटर कॉलेज में कई दिनों से कुछ छात्र तिलक लगाकर आ रहे थे. छात्रों का आरोप है कि एक शिक्षक ने उनका तिलक हटवा दिया और अभद्रता की. शिक्षक ने कहा कि इस स्कूल में तिलक लगाकर नहीं आ सकते हो. अगले दिन छात्रों ने अपनी कक्षा के सभी बच्चों को तिलक लगा दिया. इससे शिक्षक भड़क उठा तथा स्कूल प्रबंधन कमेटी से छात्रों की शिकायत की.

आश्चर्य की बात ये है कि स्कूल प्रबंधन ने भी छात्रों को हडकाया तथा स्कूल में तिलक लगाकर आने पर रोक लगा दी. बच्चों के अभिभावकों का कहना है कि मामला चार पांच दिन से चल रहा है तथा शिक्षक जानबूझकर छात्रों को परेशान कर रहे हैं तथा तिलक लगाने से रोक रहे हैं. स्कूल में तिलक हटवाने की जानकारी मिलने पर हिन्दू संगठन भड़क उठे तथा आरोपी शिक्षकों पर कार्यवाई की मांग की.

Share This Post

Leave a Reply