अगर EVM में खराबी है तो मायावती अपने जीते मेयरों का इस्तीफा दिला कर वहां बैलेट से करवा लें चुनाव – योगी आदित्यनाथ

निकाय चुनाव में हार के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ज्यादा ही हताश हो गई हैं। जिसके कारण वह अपनी हार को बर्दाश नहीं कर पा रही हैं । जिससे उनकी गाड़ी

ईवीएम पर ही अटक जाती हैं। आपको बता दे कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्षी दलों के ईवीएम से चुनाव में धांधली से जुड़े आरोपों पर तगड़ा पलटवार

किया है। योगी ने कहा कि बसपा सुप्रीमो मायावती को यदि ईवीएम पर विश्वास नहीं है तो अलीगढ़ और मेरठ के नवनिर्वाचित महापौर (मेयरों) से इस्तीफा दिला

दें, सरकार आयोग से बैलेट से चुनाव कराने का अनुरोध कर लेगी।

इससे हकीकत सामने आ जाएगी। साथ ही उन्होंने भाजपा के नवनिर्वाचित महापौरों को

अपने-अपने शहरों की योजना बनाकर विकास करने और जनता की अपेक्षाओं पर खरा उतरने का मंत्र दिया। भाजपा के प्रदेश मुख्यालय में नवनिर्वाचित 14

महापौर के अभिनंदन समारोह को संबोधित करते हुए योगी ने कहा कि निकाय चुनाव में हार के बाद विपक्षी दल ईवीएम पर आरोप लगा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि

ईवीएम राज्य निर्वाचन आयोग की संपत्ति है। बसपा सुप्रीमो मायावती जिस ईवीएम पर आरोप लगा रही हैं, उसी ईवीएम से उनकी पार्टी ने अलीगढ़ और मेरठ में

महापौर चुनाव जीते हैं। मुख्यमंत्री ने चुनौती दी कि यदि मायावती को ईवीएम पर भरोसा नहीं है तो वे अलीगढ़ व मेरठ के बसपा महापौर का इस्तीफा दिलाकर

मतपत्र से चुनाव लड़ा लें, जिससे सच्चाई सामने आ जाएगी।

Share This Post

Leave a Reply