Breaking News:

दुर्गा पूजा को लेकर लगाया भगवा झंडा तो भड़क उठे मजहबी उन्मादी.. कश्मीरी अंदाज में बरसाए पत्थर.. घटना #योगीराज की

आखिर वह कौन सी सोच है जो खुद को तथाकथित धर्मनिरपेक्षता का सबसे बड़ा ठेकेदार बताती है लेकिन गैर मजहबी पर्व-त्यौहार मनाने वालों की जान लेने पर उतारू हो जाती है? आखिर वह कौन सी सोच है जो कहती है कि संविधान सबको आपने धर्म-मजहब के अनुसार जीने का हक़ देता है लेकिन जब कोई गैर मजहबी अपने धार्मिक कार्यों को करता है तो बर्दाश्त नहीं कर पाती? सवाल खडा होता है कि क्या ये सोच सामाजिक वैमनस्यता पैदा करने का सबसे बड़ा कारण नहीं है? क्या इस सोच के कारण साम्प्रदायिक सद्भाव का दमन नहीं होता?

इसी उन्मादी, आक्रान्ताई सोच से योगी आदित्यनाथ शासित उत्तर प्रदेश के महराजगंज का पनियरा क्षेत्र उस समय दहल उठा जब मजहबी उन्मादियों ने दुर्गा पूजा के लिए भगवा झंडा लगा रहे लोगों पर भीषण हमला कर दिया तथा कश्मीरी अंदाज में पत्थरबाजी शुरू कर दी, जिसमें कई लोग घायल हो गये. प्राप्त हुई कहबर के मुताबिक़, बरगदवा ग्राम सभा में नवरात्रि के आगमन को लेकर कुछ ग्रामीण एक चबूतरे पर भगवा रंग का झंडा लगा रहे थे. चबूतरे पर एक जगह दूसरे समुदाय का झंडा लगा हुआ था. गांव की एक महिला झंडा लगाने वाले व्यक्ति को गाली देने लगी जिसका झंडा लगा रहे लोगों ने विरोध किया. इस छोटे से विवाद ने देखते ही देखते बड़ा रूप ले लिया तथा झंडा लगाने के विरोध में उन्मादियों ने हमला कर दिया तथा बवाल पर उतारू उन्मादी लोग अपने छतों से पत्थर चलाने लगे.

सूत्रों ने बताया कि दो समुदायों के बीच ईंट और पत्थरबाजी की सूचना पाते ही भारी पुलिस बल मौके पर गांव में पहुंची और मोर्चा संभाल लिया. पत्थरबाजी करने, ईंट चलाने और क्षेत्र शांति भंग करने वाले आरोपियों की धरपकड़ के लिये पुलिस ने कई घरों में दबिश दी और करीब छह लोगों को हिरासत में ले लिया. उन्होने बताया कि गांव वालों से शांति बनाये रखने की अपील की गयी है. एहतियात के तौर पर गांव में पुलिस बल तैनात है. हर संदिग्ध पर नजर रखी जा रही है.

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *