वो हिन्दू बन कर उनसे मिला.. फिर परिवार से अलग किया और अब दे रहा मौत की धमकी.. असल मे वो मुसलमान था

लव जिहाद से तो सब परिचित है ही कि किस तरह ये हिन्दू समुदाय की मासूम लड़कियों की ज़िन्दगी तबाह करता है। धोखा, झूठ और फरेब के आलावा किसी

और चीज का लव जिहाद में ज़िक्र ही नहीं है। लव जिहाद में तो ज़बरन धर्म परिवर्तन कराया जाता है। इतना ही नहीं अब लव जिहाद के अलावा भी कुछ

कथातथित लोगों ने एक और नया हथकंडा अपनाया है जिसमे ये दूसरे समुदाय की लड़कियों को अपना धर्म हिन्दू बताकर उन्हें फंसा रहे है।

ऐसे नहीं तो वैसे लेकिन इनका मकसद सिर्फ हिन्दू समुदाय की भोली भाली लड़कियों की ज़िन्दगी तबाह करना है।

बता दें कि धर्म छिपाकर दूसरे समुदाय की

लड़कियों को प्रेमजाल में फंसाकर भगाने और फिर उसके घरवालों को धमकाने के दो अलग-अलग मामले सामने आए हैं। यह मामला कानपुर शहर और कानपुर

देहात का है पहले लड़कियों को अपने प्रेम के जाल में फ़साना और बाद में उनके परिवार को धमकी देने की बात सामने आयी है। इन घटनाओं की जानकारी

पुलिस को मिलते ही एडीजी के निर्देश पर मामले को गंभीरता से लेते हुए तेज हो गई है।

पहला मामला कानपुर किदवई नगर का है, जहां बीएससी की छात्रा के साथ यह घटना हुई। सूत्रों से पता चला है कि कि किदवई नगर लोहा पार्क के पास रहने वाले

एक युवक ने खुद को हिन्दू बताकर उनकी बेटी को अपने प्रेम जाल में फंसा लिया। 1 अगस्त को आरोपी उनकी बेटी को बहला फुसलाकर भगा ले गया।

इतना ही

नहीं अब ये आरोपी लड़की के परिजनों को लड़की को जान से मरने की धमकी दी। लड़की के परिजनों ने धमकी से डर से घर छोड़ दिया और अब ये शहर में ही

एक रिश्तेदार के घर में रह रही हैं। लड़की के परिजनों की रिपोर्ट दर्ज कर ली गयी है, उन्हें शक है कि आरोपी उनकी बेटी को प्रेमजाल में फंसा कर बेच भी सकता

है। बेटी को भी बरामद कर लिया है। सीओ ने किदवई नगर एसओ को जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

दूसरा मामला रसूलाबाद (कानपुर देहात) का सामने आया है। यहां भी इन गैरहिंदू युवको ने लड़की की ज़िन्दगी खराब कर दी। एक 16 वर्षीय बेटी को गांव में रहने

वाले एक युवक ने प्रेम जाल में फंसा लिया। परिजनों ने बताया की आरोपी अपने दोस्त के साथ उनकी बेटी को 28 जुलाई को भगा कर ले गया है। लड़की को

अपनी प्यार में ऐसा फसाया कि वो उसकी हर बात मानने को राजी हो गयी। उस युवक के झूठे प्यार में पढ़कर उसने घर से जेवरात भी ले गई है। यह भी इन

गैरहिंदू युवको ने वही किया जो पहले बीएससी की छात्रा के साथ किया था। इन आरोपियों ने लड़की के बारे में पूछने पर उन लोगों को जान से मारने की धमकी

दे रहे हैं। 30 जुलाई को लड़की के परिजन एडीजी अविनाश चंद्र से मिला और थाने में तहरीर दी। एडीजी ने एसओ को कार्रवाई का निर्देश दिया। जल्द से जल्द इन

युवको को हिरासत में लिया जाएगा। 

Share This Post

Leave a Reply