बहराइच का हैवान डाक्टर जिस में मर चुकी है मानवता .. योगी के रामराज्य के सपने का सबसे बड़ा दुश्मन

भगवान् का दूसरा रूप देखे जाने वाले डाक्टर ने बहराइच में हैवानियत का रूप तब धारण कर लिया जब एक व्यक्ति अपनी प्रसूता पत्नी के हो रहे असहनीय दर्द की बात जब इमरजेंसी में बैठे डाक्टर को बाटइ तो पहले तो चिकित्स्क ने कहा की वो कोई वार्ड ब्याय नहीं जो इंजेक्शन लगाएगा/ लेकिन जब प्रसूता का पति ने डाकटर से कई बार मरीज को देखने की गुहार लगायी तो डाकटर ने रिश्वत की मांग की जिसे पीड़ित पति देने को तैयार भी हो गया…

लेकिन हद तो तब हो गयी जब प्रसूता मरीज को देखने के बहाने डॉक्टर अश्लील हरकत कर बैठा/ डाक्टर की हरकत से नाराज प्रसूता ने जब विरोध कर अपने पति को पास बुलाया तो पति के विरोध के बाद डाक्टर मार पीट पर उतारा हो गया और प्रसूता के पति को घसीट कर जमकर लात घूंसे से पीट दिया/ प्रसूता के साथ छेड़खानी और डाक्टर द्वारा पति की पिटाई की सुचना पाने पर कवरेज करने अस्पताल पहुंचे तमाम मिडिया कर्मियों को भी डाक्टर ने माँ बहन की गाली देते हुए सभी से हाथापाई की/ और झपाटा मारकर कैमरा मोबाइल भी तोड़ने का प्रयास किया/ इस पुरे मांमले में जनपद बहराइच की पुलिस पीड़ित महिला मरीज और उसके पति की तहरीर को दरकिनार कर उल्टा मरीज को ही धमकाना सुरु कर दिया/ 

भले ही योगी सरकार अस्पताल की व्यवस्था को लेकर चाक चौबंद होने की बात कर रही हो लेकिन अस्पताल में मौजूद हैवान मानसिकता वाले डाक्टर सरकार का पलीता लगाने को बेताब हैं यही वजह है की आम जनता का मोह भांग होने लगा है बहराइच के नागरौर निवासी सोनू हैदर नाम का व्यक्ति अपनी पत्नी को जिला महिला चिकत्सालय डिलीवरी के लिए लेकर पहुँचा/ पत्नी को अधिक दर्द होने पर जब उसने इमरजेंसी के डाक्टर आर के मिश्रा से तत्काळ देखने की बात की तो डाक्टर ने रिश्वत मांगी जिसे मरीज के पति सोनू ने तत्काल दे दिया/ लेकिन जब लेबर रूम में डाक्टर ने महिला मरीज को चेक करने के नाम पर छेड़खानी की तो पति के विरोध पर मामला बढ़ गया और फिर डाक्टर ने पहले पति की जमकर पिटाई की/ घटना की कवरेज पर पहुंचे मीडियाकर्मियों से भी गालीगलौज करते हुए हाथापाई की,,,

गौर से देखिये इस डाक्टर को जिसने गले पर तो चेकअप का आला लगाए है लेकिन इनकी नियति इतनी गन्दी है की पेट में 9 माह का बच्चा लिए महिला पर भी गन्दी निगाह की नियति से हरकत करने से बाज नहीं आते.. डाक्टर आरके मिश्रा की पत्नी कांग्रेस नेत्री हैं और डाक्टर का खुद का निजी नर्सिंगहोम भी इकौना में संचालित है.. इस मामले में पुलिस ने ढुलमुल रवैया अपनाते हुए पीड़ित और उसकी पत्नी पर ही दबाव बनाना सुरु कर दिया ताकि डाक्टर के खिलाफ मामला ना बढ़ सके/ पीड़ित अपनी व्यथा जिले के एसपी सुनील सक्सेना से बताने के लिए 5 घंटे तक आवास के बाहर खड़ा रहा लेकिन किसी ने एक नहीं सुनी / पुलिस की धमकी और डाक्टर की हैवानियत से तंग पीड़ित मरीज और उसके पति ने मुख्यमंत्री से मिलकर शिकायत करने की बात कही है… 

सुदर्शन न्यूज इंसान की खाल में छिपे ऐसे भेडियों के खिलाफ मानवता से कोसों दूर जाने के अपराध में कार्यवाही की मांग करता है . 

रिपोर्टर – श्री हरीश कुमार वर्मा , 

संवाददाता – बहराइच , उत्तर प्रदेश `

Image Title

 

Share This Post

Leave a Reply