Breaking News:

पीलीभीत में बुलंदशहर दोहराने की कोशिश.. गोकशी के बाद भारी बवाल.. पुलिस ने दबोचे 13 गोतस्कर

हाल ही में बड़ी संख्या में गोकशी के बाद उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में जमकर बवाल हुआ था, हिंसा-आगजनी हुई थी. बुलंदशहर में हुई हिंसा में गोभक्त सुमित तथा इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की मौत हो गई थी. गोतास्कारों का अगला निशाना बना उत्तर प्रदेश का ही पीलीभीत का पूरनपुर जहाँ बुलन्दशहर दोहराने की कोशिश की गई. गोकशी की सूचना पर हिन्दू समाज का आक्रोश भड़क उठा तथा उन्होंने कोतवाली घेर ली. कोतवाल की सूचना पर पहुंचे अफसरों के समझाने और कार्रवाई का आश्वासन देने पर बमुश्किल लोग शांत हुए. बाद में गोकशी के आरोप में पुलिस ने पूरनपुर से 10 और बीसलपुर से तीन तस्करों को गिरफ्तार किया. पूरनपुर में पांच कुंतल गो मांस भी बरामद किया गया.

मामला पूरनपुर देहात क्षेत्र के मुहल्ला अहमदनगर का है. आरोप है, एक घर में पशु कटान हो रहा था. उस घर का दरवाजा खुलते समय रास्ते से निकलने वालों ने देखा तो आक्रोशित हो गए. देखते ही देखते चर्चा पड़ोस के गांव से लेकर नगर तक फैल गई. पहले गांव में लोगों ने प्रदर्शन किया तथा जाम लगाने की कोशिश की. पुलिस मौके पर पहुंची, तो उसके सामने भी जमकर प्रदर्शन किया तथा गौहत्यारों की गिरफ्तारी की मांग की. मामला भड़कने और लोगों के शांत न होने पर आखिर पूरनपुर के कोतवाल ने एसडीएम और सीओ को खबर की. सर्किल के माधोटांडा व सेहरामऊ थाने से फोर्स बुलानी पड़ी.

अतिरिक्त बल आने पर पुलिस गोकशी के आरोपितों शब्बीर अहमद, हनीफ, बशीर अहमद, रहीस अहमद, मोहम्मद मियां, रफीक, अकरम निवासी शेरपुर कला, हबीब, बब्बू निवासी मुहल्ला अहमदनगर और मोहम्मद इस्लाम निवासी मुहल्ला साहूकारा को हिरासत में लेकर थाने ले आई. तब तक ¨हदूवादी संगठन के लोग कोतवाली जा पहुंचे. एसडीएम झब्बर प्रसाद चौहान, सीओ कमल सिंह यादव कोतवाली पहुंचे। आरोपितों को मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया. तब प्रदर्शनकारी शांत हुए और जाम खुल सका. एहतियात के तौर पर गांव में पुलिस लगा दी गई है.

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *