Breaking News:

जिस तिरंगा यात्रा में मजहबी उन्मादियों के हाथों बलिदान हुआ था चंदन.. उनके भाई ने वहीं से शुरू की मुहिम जहाँ चंदन छोड़ कर गया था

इस साल 26 जनवरी पर मजहबी उन्मादियों ने तिरंगा यात्रा जे दौरान राष्ट्रवादी युवा चंदन की ह्त्या कर दी थी. एकतरफ चंदन तथा उसके साथी थे जो गणतंत्र दिवस के पर्व पर तिरंगा यात्रा निकाल रहे थे तो दूसरी तरफ मजहबी उन्मादियों की भीड़ थी जिसने तिरंगा यात्रा को रोका, हमला किया जिसमें चंदन बलिदान हो गया. तिरंगा यात्रा के दौरान मजहबी उन्मादियों के इस क्रूरतम हमले में हुए चंदन के बलिदान के बाद पूरा देश आक्रोश से भरा उठा था.

राष्ट्रवाद की मुहिम को जहाँ छोड़कर चंदन बलिदान हुआ था उसे वहीं से शुरू करने का जिम्मा उठाया है चंदन के भाई विवेक ने. आगामी 26 जनवरी को तिरंगा यात्रा निकालने को लेकर बलिदानी चंदन का भाई विवेक तथा उनका परिवार तैयारियों में जुटा है. चंदन का भाई विवेक गुप्ता भाजपा व हिंदू वादी संगठनों के नेताओं से मुलाकात कर तिरंगा यात्रा के लिए आमंत्रित कर रहा है. पिछले सप्ताह जिलाधिकारी को विवेक गुप्ता ने तिरंगा यात्रा की अनुमति के लिए प्रार्थना पत्र दिया था. अभी इस प्रार्थना पत्र पर जिला प्रशासन ने कोई निर्णय नहीं लिया है, लेकिन परिवार के द्वारा की जा रहीं तैयारियां जारी हैं. चंदन के भाई विवेक का कहना है कि मेरे भाई ने तिरंगा के लिए अपनी जान दी है तो राष्ट्रवाद की उस लौ को मैं बुझने नहीं दूंगा तथा इस बार भी तिरंगा यात्रा निकलेगी.

इसी कड़ी में चंदन के भाई ने प्रखर हिंदू वादी नेता की छवि वाले तेलांगना के भाजपा विधायक टी राजा सिंह (टाइगर) से विवेक ने हैदराबाद जाकर मुलाकात की. उन्हें तिरंगा यात्रा में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया. विधायक टी राजा सिंह ने समय आने पर कासगंज पहुंचने की बात की है. बता दें कि तिरंगा यात्रा के विवाद के बाद हुई हिंसा में चंदन गुप्ता की हत्या के बाद शहर में बाहरी नेताओं के प्रतिबंध के बावजूद तेलंगाना के भाजपा विधायक टी राजा सिंह इक से यहां पहुंचे थे. उसके बाद से चंदन के परिवार से लगातार विधायक टी राजा सिंह संपर्क में हैं तथा इस बार उन्होंने तिरंगा यात्रा में शामिल होने का आश्वासन चंदन के भाई को दिया है.

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *