बधाई दीजिये उस शहनाज को जिसने ओमप्रकाश की दुल्हनिया बनकर स्वीकार कर लिया सत्य सनातन..

अपने परिवार, रिश्तेदार, सेज संबंधियों की तमाम बंदिशों को भी शहनाज ने धता दिया तथा ये बंदिशें भी शहनाज को नहीं रोक सकीं. शहनाज ने ठान लिया था किउसका जन्म भले मुस्लिम परिवार में हुआ है लेकिन अब वह अपनी जिंदगी मुस्लिम बनकर नहीं बल्कि सनातनी बनकर जियेगी. शहनाज के घरवालों ने उसको घर में कैद कर दिया लेकिन वो उसके अंदर जल रही ओमप्रकाश यादव से शादी कर सनातन को अपनाने की ज्वाला की लौ को कुंद न कर सके.  और आखिरकार वो दिन आ गया जब ओमप्रक्शा ने शहनाज को अपनी दुल्हनिया बना लिया तथा शहनाज अब शहनाज न रहकर सीमा बन गए. तो आज बधाई दीजिये उस शहनाज को जिसने ओमप्रकाश का हाथ थामा तथा सदा-२ के लिए सत्य सनातन को स्वीकार कर लिया.

 


घटना बिहार के दरभंगा जिले की है. खबर के मुताबिक, दरभंगा के जाले थाना क्षेत्र के दोघरा विषधर चौक निवासी स्व.लखन यादव के 23 वर्षिय पुत्र ओमप्रकाश यादव बीते छ: वर्षों से दिल्ली में रहकर शादी विवाह में केटरर का काम करता था. इसी दौरान उसकी मुलाकात चार वर्ष पूर्व दिल्ली नजबगढ़ निवासी कयूम की पुत्री शहनाज से हुई. जब मुलाकात का सिलसिला बढ़ता गया तो पता हे न चला कब दोनों के बीच प्रेम हो गया तथा शहनाज ने ओमप्रकाश से कह दिया कि अब वह अपनी बाकी जिंदगी उसके साथ ही गुजारेगी तथा ओमप्रकाश से शादी करेगी. ओमप्रकाश ने शहनाज को अपना लिया तथा मंगलसूत्र पहनाकर उसको पत्नी कि तरह अपना लिया.

 लेकिन इसके बाद जब शहनाज के परिजनों को जानकारी हुई कि उसकी पुत्री गैर धार्मिक वो भी हिन्दू के साथ शादी कर लिया तो उसके परिजनों ने ओमप्रकाश की हत्या करने के लिए षड्यंत्र रचने लगे. लेकिन शहनाज उर्फ सीमा ने ढाल बन अपने पति की रक्षा की. 17 मार्च 2018 को दोनो दिल्ली से भागकर दरभंगा आ गये. यहां आपसी सहमती से दरभंगा स्थित मनोकामना मंदिर में हिन्दु रीति-रिवाज से शादी कर लिया और पति-पत्नी के रुप मे रहने की कसम खाई. शादी के बाद ओमप्रकाश ने शहनाज का नाम बदलकर सीमा रख दिया. शहनाज के परिजनों ने ओमप्रकाश के घर जाकर भी विरोध किया लेकिन सहनाज ने साफ़ कर दिया कि वह अब सीमा है शहनाज नहीं तथा अब जियेगी तो आमप्रकाश के साथ तथा मारेगी तो ओमप्रकाश के साथ. आखिरकार साड़ी अड़चने दूर हुई तथा आज ओमप्रकाश व सीमा पति पत्नी के रूप में रह रहे हैं. सुदर्शन परिवार ओमप्रकाश तथा शहनाज से सीमा बनी उसकी पत्नी को नवजीवन की बधाई तथा शुभकामनायें देता है.

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *