Breaking News:

कौन दुर्गा, कैसी नवरात्रि, बोल कर माँ के भक्तों पर टूट पड़े उन्मादी… चुनौती दी योगी की सत्ता को और नहीं लगने दी माँ की मूर्ति

आखिर वह कौन सी सोच है जो खुद को तथाकथित धर्मनिरपेक्षता का सबसे बड़ा ठेकेदार बताती है लेकिन गैर मजहबी पर्व-त्यौहार मनाने वालों की जान लेने पर उतारू हो जाती है? आखिर वह कौन सी सोच है जो कहती है कि संविधान सबको अपने धर्म-मजहब के अनुसार जीने का हक़ देता है लेकिन जब कोई गैर मजहबी अपने धार्मिक कार्यों को करता है तो बर्दाश्त नहीं कर पाती तथा उन पर हमला कर देती है? सवाल खडा होता है कि क्या ये सोच सामाजिक वैमनस्यता पैदा करने का सबसे बड़ा कारण नहीं है? क्या इस सोच के कारण साम्प्रदायिक सद्भाव का दमन नहीं होता?
इसी उन्मादी सोच का शिकार उत्तर प्रदेश का बहराइच हुआ है जहाँ मजहबी उन्मादियों ने नवरात्रि में माँ दुर्गा की मूर्ति स्थापना कर रहे भक्तों पर भीषण हमला कर दिया तथा कश्मीरी अंदाज में भयंकर पत्थरबाजी की. खबर के मुताबिक़, बहराइच जिले के रिसिया थाना अंतर्गत कस्बे के मोहल्ला गायत्री नगर में स्थित पूजित कुआं के निकट बुधवार रात 11:30 बजे के आसपास कुछ लोग मां दुर्गा की प्रतिमा लेकर स्थापना करने पहुंचे. जयकारों के बीच प्रतिमा स्थापना का कार्य चल रहा था. इसी दौरान सैकड़ों की संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोग आ धमके तथा मूर्ति स्थापना का विरोध करना शुरू कर दिया जिससे कहासुनी शुरू हो गई. इसी बीच उन्मादियों की भीड़ में शामिल कुछ लोगों ने कट्टे से फायरिंग शुरू कर दी जिससे भगदड़ मच गई. देखते ही देखते माँ दुर्गा के भक्तों पर भीषण पत्थरबाजी शुरू हो गयी, जिसके बाद क्षेत्र में साम्प्रदायिक तनाव पैदा हो गया.
वारदात की सूचना पाकर रिसिया पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन हालात बेकाबू देखकर उच्चाधिकारियों को सूचना दी. इस पर अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण रवींद्र कुमार, खैरीघाट, रानीपुर, कोतवाली देहात, रामगांव, नानपारा व दरगाह थाने की पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे. किसी तरह हालात को काबू में किया गया। रात में ही एक ट्रक पीएसी बुलायी गयी. इस मामले में 40 नामजद व 250 अज्ञात लोगों के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया है. सुबह डीएम माला श्रीवास्तव और पुलिस अधीक्षक सभाराज ने भी घटनास्थल का मुआयना किया तथा उपद्रवियों की धरपकड़ के निर्देश दिए गए. अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अब तक 15 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. शेष नामजद उपद्रवियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी चल रही है.
Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *