योगी सत्ता को बुलंदशहर के जवाब में गौहत्यारों की चुनौती.. पूरे प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में काटी गाय.. बरेली, आंवला, पीलीभीत से 20 गौहत्यारे गिरफ्तार

गोकशी को लेकर हुई बुलंदशहर हिंसा के बाद गोतस्करों ने योगी की सत्ता को सीधी चुनौती दी जब प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में गोतस्करों ने गोकशी को अंजाम दिया. इसके बाद पुलिस ने बरेली, आंवला, बुलंदशहर तथा पीलीभीत से 20 गोतस्करों को गिरफ्तार कर लिया. एक ही दिन इतनी बड़ी संख्या में गोतस्करों की गिरफ्तारी से ये साफ़ होता है कि उन्मादी गोहत्यारे योगी सरकार को सीधी चुनौती दे रहे हैं. हालाँकि पुलिस भी गोतस्करों के खिलाफ आक्रामक नजर आ रही है लेकिन सवाल वही है कि आखिर ये कौन लोग हैं जो किसी भी कीमत पर हिन्दुओं की आस्थाओं को कुचलते हुए गोतस्करी करने पर आमादा हैं.

आपको बता दें कि गुरूवार को पीलीभीत में बुलंदशहर बुलंदशहर जैसी स्थिति पैदा हो गई. आनन-फानन में पुलिस ने 5 क्विंटल मांस बरामद कर 10 गोतस्करों को गिरफ्तार कर लिया. बीसलपुर तथा बरेली से भी तीन तीन गोतस्करों को गिरफ्तार किया गया. वहीं बुलंदशहर में साढ़े तीन क्विंटल गोवंश का मांस लेकर आ रहे कार सवार एक गोतस्कर को गिरफ्तार किया गया, लेकिन उसके दो साथी भागने में सफल रहे.बुलंदशहर के सयाना के थल गाँव के बंबे में गोवंश का शव मिला साथ ही औरंगाबाद थाना क्षेत्र में भी एक तस्कर की गिरफ्तारी हुई. हापुड़ में पुलिस ने दो तस्करों को गिरफ्तार किया है.

जानकारी के मुताबिक़ पूरनपुर में हसीब, बब्बू, मोहम्मद  इस्लाम, अकरम, रफीक, मो. मियां, रहीस अहमद, हनीफ और शब्बीर अहमद को धर-दबोचा. पुलिस ने बताया आरोपियों के पास से पांच क्विंटल मांस, दो कुल्हाड़ी, छह छुरे, दो गंड़ासा, एक सूजा, तीन डंडा, रस्सी के आठ टुकड़े और इलेक्ट्रानिक कांटा बरामद किया गया है. इसके अलावा शाहजहांपुर जिले के निगोही थाना क्षेत्र के गांव तालगांव के रहने वाले मोहम्मद गनी कुरैशी, कसीम व हारून कुरैशी को भी गिरफ्तार किया गया. तीनों के कब्जे से एक तमंचा, दो चाकू, एक कुल्हाड़ी, चापड़ व पशु वध के अन्य उपकरण बरामद हुए. गनी रासुका में भी निरुद्ध रह चुका है. वह पुलिस पर हमले का भी आरोपी है.

Share This Post

Leave a Reply