Breaking News:

अरुणाचल प्रदेश के 7 विधायकों ने ओढ़ लिया भगवा… पूर्वोत्तर में तेजी से खिल रहा कमल

एक तरफ कांग्रेस पार्टी सहित तमाम भाजपा विरोधी दल प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में अनवरत दौड़ रहे विजय रथ को रोकने के लिए महागठबंधन बनाने की योजना पर कार्य कर रहे हैं ताकि किसी भी तरह भाजपा के विजयी रथ को रोका जा सके. यहां तक एक दूसरे के धुर विरोधी सपा तथा बसपा तक ने भाजपा को रोकने के लिए हाथ मिला लिया है लेकिन चाणक्य उपनाम से जाने जाने वाले भाजपा अध्यक्ष समय समय पर अपनी ऐसी कूटनीति का परिचय देते रहते हैं जिससे एक मंच पर आने को आतुर विपक्ष की संभावनाओं, उम्मीदों पर पानी फिरता नजर आता है.

इसी क्रम में पूर्वोत्तर के खूबसूरत राज्य अरुणाचल प्रदेश में भाजपा को सोमवार को बड़ी को कामयाबी हाथ लगी लग, जब पीपुल्स पार्टी आॅफ अरुणाचल (पीपल्स पार्टी ऑफ अरुणाचल) नौ में से सात विधायक भाजपा की सहयोगी नेशनल पीपुल्स पार्टी में शामिल हो गए. गौरतलब है कि नेशनल पीपुल्स पार्टी भाजपा पार्टी नीत सत्तारूढ़ गठबंधन में हिस्सेदारी है.  एनपीपी के प्रदेश अध्यक्ष गिचो कबाक ने विधानसभा सचिवालय को विधायकों के नाम सौंपने के बाद इटानगर में संवाददाता सम्मेलन में इस बात की जानकारी दी. एनपीपी और भाजपा पूर्वोत्तर लोकतांत्रिक गठबंधन में भागीदार हैं. इसी गठबंधन की राज्य में सरकार है. बताया गया है कि ये विधायक सीधे भाजपा में शामिल होने के बजाय उसकी सहयोगी पार्टी में शामिल हुए हैं.

एनपीपी के राज्य अध्यक्ष काबक ने बताया कि सभी विधायक स्वेच्छा से उनके साथ आए हैं. 60 सदस्यीय अरुणाचल विधानसभा में अब भाजपा के सदस्यों की संख्या 48 व एनपीपी की सात हो गई है. कांग्रेस का एक व दो निर्दलीय विधायक भी सदन में हैं. एनपीपी का पहले कोई सदस्य सदन में नहीं था लेकिन अब भाजपा के सहयोग से PPA के सात विधायक उसके हो गए हैं.   भाजपा की कुल तादाद देखी जाए तो अब यह 57 पर पहुंच गई है क्योंकि 48 खुद भाजपा के विधायक हैं तथा 7 विधायक भगवा ओढ़कर एनपीपी में शामिल हो गए. NPP भाजपा की स्वाभाविक सहयोगी पार्टी है तथा उसी की मदद से ये विधायक NPP में गए हैं. इसके अलावा दो निर्दलीय विधायक भी उसके साथ में आ गए हैं. जानकारों का कहना है कि ताजा घटनाक्रम से भाजपा का राज्य में एक छत्र राज हो गया है तथा एक तरह से पूर्वोत्तर केसरिया रंग में रंगता जा रहा है.

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *