जो अलीगढ़ चर्चा में आया जिन्ना के चलते, अब उसी अलीगढ़ की तरफ घूमी NIA की नजर

पिछले दिनों देश के बंटवारे के जिम्मेदार मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर को लेकर चर्चा में रहा उत्तर प्रदेश का अलीगढ़ शहर अब सुरक्षा एजेंसी NIA की रडार पर आ गया है. अमरोहा, मेरठ और संभल के बाद अब एनआईए की नजर अलीगढ़ की तरफ घूम गई है. सूचना मिली है किकि एनआईए की टीम कभी भी यहां सर्च के लिए आ सकती है. इस इनपुट के मिलने के बाद स्थानीय स्तर पर एजेंसियां सतर्क हो गई हैं. शहर के संवेदनशील, मिश्रित आबादी वाले इलाकों के अलावा जिले के मिश्रित आबादी वाले कस्बों पर भी नजर रखी जा रही है.

यह बात जगजाहिर है कि अलीगढ़ में समय-समय पर दहशतगर्द पनाह पाते रहे हैं. जब तब देश में बड़ी घटनाएं हुई हैं, तब तब यहां किसी न किसी रूप से पनाह पाने या मदद मिलने के संकेत मिले हैं. इसी कड़ी में अब अलीगढ़ में कुछ सर्च के संकेत मिल रहे हैं. हालांकि अभी तक अधिकारिक जानकारी या पुष्टि नहीं हो पा रही है लेकिन अमरोहा, हापुड़ और मेरठ में एनआईए और यूपी एटीएस द्वारा पकड़े गए आतंकियों और उनसे बरामद भारी विस्फोटक सामग्री के बाद अलीगढ़ में भी हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है.

अलीगढ़ में मन्नान वानी और सिमी के पुराने कनेक्शन को देखते हुए खुफिया एजेंसियों का यहां पर स्वाभाविक रूप से फोकस हो गया है. होटलों, सार्वजनिक स्थानों, बाहर से आकर किराए पर रह रहे लोगों पर पुलिस खुफिया तरीके से नजर रख रही है. एजेंसियों के स्तर से सार्वजनिक स्थान, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, प्राइवेट बस स्टैंड आदि पर खुफिया तरीके से निगरानी की जा रही है. वहीं मिश्रित आबादी वाले इलाकों व कस्बों पर विशेष फोकस है. कबाड़घरों पर भी नजर रखी जा रही है.

Share This Post