जी हां, ये है योगिराज जहां आमिर रशादी भरेंगे पुलिस की गाड़ी पर हुई तोड़फोड़ का पूरा खर्च और उसके साथ तमाम जुर्माना

ओलमा काउंसिल के राष्ट्रीय अध्यक्ष आमिर रशादी की मुश्किलें दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही हैं। दहेज हत्या और सबूत नष्ट करने का आरोप झेल रहे रशादी

सहित अन्य पांच आरोपियों से पथराव में क्षतिग्रस्त हुई पुलिस की गाड़ी के नुकसान की भी भरपाई की जाएगी।
डायल 100 की गाड़ी के हुए नुकसान का आंकलन के लिए विशेषज्ञों से राय ली जा रही है। प्रभारी एसपी सिटी सुभाष चंद्र गंगवार ने आरोपियों को नोटिस जारी

करने के आदेश कर दिए हैं।

 आपको बता दे कि ओलमा काउंसिल के राष्ट्रीय अध्यक्ष आमिर रशादी के भाई हम्मान की बहू फौजिया की नौ अक्तूबर 2017 को संदिग्धाहाल में मौत हो गई।

घर वालों के अनुसार फौजिया की मौत करेंट लगने से हुई है जबकि उसके अंतिम समय की ली गई फोटो में शरीर पर कई जगहों पर चोट के निशान मिले हैं।
घटना के बारे में फौजिया के जीजा सरायमीर थाना क्षेत्र के संजरपुर गांव निवासी हामिद संजरी ने 22 नवंबर को शहर कोतवाली में हत्या और सबूत नष्ट करने की

धारा में केस दर्ज कराया।

जिसमें आमिर रशादी उनके भाई हम्मान सहित तीन लोगों को आरोपित किया है।
कोतवाली पुलिस ने चार दिसंबर को कब्र से फौजिया की लाश निकालवाकर पोस्टमार्टम कराया। रिपोर्ट से मौत का कारण साफ न होने पर बिसरे की जांच के लिए

लखनऊ भेजा गया है। इसी दिन शाम करीब छह बजे जिला अस्पताल से घर लौट रहे फौजिया के जीजा हामिद संजरी आदि पर हर्रा की चुंगी मुहल्ले में पथराव

किया गया ।

घटना की सूचना मिलने पर पहुंची डायल 100 की जीप पर भी पथराव करते हुए गाड़ी को क्षतिग्रस्त कर दिया। इस संबंध में चौकी प्रभारी पहाड़पुर धर्मेंद्र कुमार की

तरफ से रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। जिसमें आमिर रशादी, उनके बेटे तलहा रशादी, भाई हम्मान सहित पांच लोगों को आरोपित किया है।
डायल 100 की गाड़ी का हुए नुकसान की रिकवरी के लिए आमिर रशादी सहित अन्य पांच आरोपियों को नोटिस भेजने का निर्देश दिया गया है। हत्या की गुत्थी

सुलझाने के लिए पुलिस हर पहलुओं की गहनता से जांच कर रही है।

Share This Post

Leave a Reply