अब राम के साथ शंकर से भी लड़ेगी ये राजनैतिक पार्टी… नेता का वीडियो वायरल होने से मचा राजनैतिक घमासान

एकतरफ जहाँ देश में श्रीराम मंदिर का मुद्दा तूल पकड़ रहा है तथा पूरा देश अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए सरकार से मांग कर रहा है वहीं एक राजनैतिक दल के नेता ने एलान कर दिया है कि उनकी पार्टी अब राम के साथ शंकर से भी लड़ेगी. आपको बता दें कि राम के साथ शंकर से भी लड़ने का एलान करने वाले इस नेता का नाम है वीरपाल यादव जो समाजवादी पार्टी का नेता है. सपा नेता ने ये बात मुहर्रम के दौरान बरेली में हुए विवाद के बाद कही है. सपा नेता का ये विडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद राजनैतिक घमासान तेज हो गया है तथा सत्तारूढ़ भाजपा सहित हिंदू संगठन समाजवादी पार्टी पर हमलावर है.

उत्तर प्रदेश के बरेली में पिछले दिनों मुहर्रम के दौरान दो पक्षों में हुए विवाद के बाद समाजवादी पार्टी के नेता वीरपाल सिंह यादव का एक वीडियो वायरल हो रहा है. इस वीडियो में सपा नेता व पूर्व राज्य सभा सांसद वीरपाल सिंह यादव विवादित बयान देते नजर आ रहे हैं. इस वीडियो में दिख रहा है कि सपा नेता वीरपाल यादव बरेली उमरिया के उन मुस्लिम परिवारों से मिलने गए थे, जो इस विवाद के चलते जेल भेजे गए. यहां वीरपाल ने कहा कि वह तो हमेशा से कांवड़ यात्रा के विरोधी हैं. उन्होंने कहा कि कांवड़ यात्रा में ज्यादातर लोग शराब व गांजा का नशा करते हुए चलते है. वीरपाल ने कहा कि कांवड़ यात्रा में लोग नशा करते हुए हंगामा करते हैं. अब समाजवादी पार्टी को राम के साथ ही शंकर से भी लड़ना होगा.

वीरपाल यादव ने कहा कि बीजेपी अब इन दोनों को लेकर आगे बढ़ रही है. वायरल हुए इस वीडियो में वीरपाल सिंह यादव में उन्होंने 2010 के दंगों के दौरान गिरफ्तार किये गए मौलाना तौकीर रजा की तरफदारी भी की. उन्होंने कहा कि वह पहले व्यक्ति थे, जो तौकीर के साथ खड़े थे. सपा नेता का विडियो सामने के बाद देशभर की हिंदूवादी जनता आक्रोशित है तथा सपा के खिलाफ आंदोलितत है. हिन्दू संगठनों का कहना है कि एक समय सपा ने अयोध्या में रामभक्तों पर गोली चलवाई थी और अब वही सपा शिवभक्तों को निशाना बना रही है. हिन्दू संगठनों का कहना है कि इसी विचारधारा के कारण सपा का सफाया हो चुका है तथा आने वाले चुनाव में रामभक्त और शिवभक्त मिलकर पूरी तरह से समाप्त कर देंगे.

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *