श्रीराम मंदिर पर फिर गरमाई राजनीति… लोकसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे मंदिर का शिलान्यास ?

अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण को लेकर चल रही बहस के बीच उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ जी की सरकार में कैबिनेट मंत्री श्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने बड़ा बयान दिया है. योगी कैबिनेट के धर्मार्थ कार्य मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी का कहना है कि 2019 लोकसभा चुनाव से पहले अयोध्या में राम मंदिर का निश्चित तौर पर शिलान्यास होगा. उन्होंने यह भी कहा कि अयोध्या में श्रीराम मंदिर का शिलान्यास मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के हाथों से होगा.

मंत्री चौधरी लक्ष्मी नारायण ने कहा कि आज भारत का जनमानस अयोध्या में राम मंदिर चाहता है. इसलिए चाहे राजनेता हों, न्यायपालिका हो या कार्यपालिका हो सभी को जनभावना का आदर करना चाहिए. राम जन्मभूमि अयोध्या में भगवान राम का मंदिर जरूर बनेगा और योगी आदित्यनाथ के हाथों से ही शिलान्यास होगा. इसमें कहीं कोई संदेह नहीं. राम मंदिर का शिलान्यास निश्चित रूप से पार्लियामेंट चुनाव से पहले होगा.

बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी के अयोध्या छोड़ने वाले बयान पर उत्तर प्रदेश सरकार में धर्मार्थ कार्य मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने कहा कि अयोध्या में हमेशा संत आते रहे हैं, कुंभ में लाखों की तादाद में संत पहुंचते हैं. किसी को डरने की जरूरत नहीं है, मुख्यमंत्री ने कानून व्यवस्था कायम करने की मिसाल पेश की है. उन्होने कहा कि अयोध्या धर्मनगरी है और धर्मनगरी में संत आते रहते हैं इसलिए कोई डरे नहीं क्योंकि संत किसी को डराते नहीं नहीं है बल्कि संत पथप्रदर्शक होते हैं.

Share This Post

Leave a Reply