कांग्रेस के नेता ने मलेशिया भेजा था कुछ लोगों को जिनकी जिदंगी हो गयी तबाह… जानिए क्यों किया ऐसा और कौन थे वो ?

पहले भी देखा गया है कि जब भी कांग्रेस सत्ता में आई है कांग्रेस सरकार में भष्ट्राचार का बोलबाला रहा हैं। न जाने कांग्रेस नोताओं ने कितने मासूम लोगों को

भष्ट्राचार को शिकार बनाया हैं। और अब एक बार फिर से कांग्रेस नेता का भष्ट्राचार में लिप्त ऐसा ही मामला सामने आया हैं।

बता दे कि कांग्रेसी नेता ने तीन युवकों को विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर इस कदर धोखा दिया कि उनका ईसानियत से ही भरोसा उठ गया ।

जब तीनों

युवकों ने अपनी आपबीती सुनाई तो पुलिस वालों की भी आंखे नम हो गई। विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर एक कांग्रेसी नेता ने तीन युवकों से लाखों रुपये से

अपनी जेब गरम कर ली और उन्हें मलेशिया में दर दर की ठोकरे खाने के लिए भेज दिया। युवकों ने कॉफी मशकत की लेकिन उन्हें कही पर भी नौकरी नहीं मिली।

बल्कि एक युवक पर वीजा ने होने के कारण मलेशिया की पुलिस ने उसे जेल में डाल दिया।

किसी तरह जान बचाकर युवक भारत आए और लक्सर कोतवाली

पुलिस को अपनी आपबीती सुनाई। पुलिस ने तुरन्त आरोपी नेता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

बता दे कि सुल्तानपुर निवासी आरिफ कुछ दिन से नौकरी की तलाश कर रहा था। इसी बीच उसकी मुलाकात लक्सर निवासी एक कांग्रेसी नेता से हुई। उक्त नेता ने

आरिफ से कहा कि यदि वह उसे 90 हजार रुपये देगा तो वह उसकी नौकरी 40-45 हजार रुपये प्रतिमाह मलेशिया की एक कम्पनी में लगवा देगा।

नौकरी की तलाश

में परेशान होकर आरिफ ने सौदा तय कर लिया और आरिफ, उसके साथी नौशाद और हैदर ने 90-90 हजार रुपये नेता को दे दिए। कुछ दिन बाद नेता ने तीनों

युवकों को 13 दिन का टूरिस्ट वीजा देकर मलेशिया भेज दिया।

तीनों जैसे ही वे तीनों मलेशिया एयरपोर्ट पर उतरे तो वहां की पुलिस ने वीजा में कमी होने की बात कहते हुए नौशाद को गिरफ्तार कर लिया और दो दिन जेल में

रखने के बाद भारत भेज दिया।

हैदर व आरिफ को भी मलेशिया की किसी कंपनी में काम नहीं मिला। 13 दिन का वीजा खत्म होने पर मलेशिया सरकार ने उन्हें

भी भारत भेज दिया। इसके बाद आरिफ ने सोमवार को कोतवाली पहुंचकर आरोपी नेता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। कोतवाल टीएस राणा ने बताया कि तहरीर

पर उस्मान निवासी लक्सर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *