कई बंगलों के मालिक हैं मुलायम… सुप्रीम कोर्ट खाली करवा रहा एक और बँगला

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री तथा समाजवादी पार्टी के नेता मुलायम सिंह यादव की मुश्किलें एक बार पुनः बढ़ गयी हैं. आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव को उनका एक बौर बँगला खाली करने का आदेश दे दिया है. गौरतलब है कि मुलायम सिंह यादव सिर्फ एक बंगले के ही मालिक नहीं हैं बल्कि अन्य तरीकों से उन्हें कई बंगले मिले हुए हैं. सुप्रीम कोर्ट इससे पहले भी मुलायम सिंह यादव से एक बँगला खाली करवा चुका है जो उन्हें पूर्व मुख्यमंत्री के तौर पर मिला हुआ था.

अब सुप्रीम कोर्ट ने मुलायम सिंह यादव को जिस बंगले को खाली करने का आदेश दिया है वो उन्हें लोहिया ट्रस्ट अध्यक्ष के रूप में मिला हुआ है. बता दें कि मुलायम सिंह यादव लोहिया ट्रस्ट के अध्यक्ष भी है. दरअसल, सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की गई है कि मुलायम सिंह यादव से लोहिया ट्रस्ट का बँगला खाली कराया जाए, जिस पर सुप्रीम कोर्ट ने बँगला खाली करने का आदेश दे दिया है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद लखनऊ के वीवीआईपी इलाके में स्थित तीन ट्रस्टों से चार माह में बंगले खाली कराने होंगे.

सुप्रीम कोर्ट में याचिकाकर्ता ने लोहिया ट्रस्ट का मामला उठाया. विधानसभा मार्ग स्थित आंबेडकर महासभा के लिए पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के कार्यकाल में भवन आवंटन हुआ था. आपको बता दें कि लोहिया ट्रस्ट के अघध्यक्ष मुलायम सिंह यादव है. जबकि उनके भाई समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के संरक्षक शिवपाल यादव और बेटे और अखिलेश यादव भी इस ट्रस्ट के सदस्य हैं. याचिका में लोहिया ट्रस्ट का नाम भी शामिल है. एसएन शुक्ला ने कहा है कि लोहिया ट्रस्ट के लिए बंगले का आवंटन 10 साल के लिए किया गया है जबकि संशोधित एक्ट के मुताबिक बंगले का आवंटन पांच साल के लिए किया जा सकता है. इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने मुलायम सिंह यादव कोबंगला खाली करने का आदेश दे दिया.

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *