शोपियां में सैनिको ने सदा के लिए सुला दिए 6 और दुर्दांत आतंकी.. मरने वालों में हिजबुल के कुख्यात मुश्ताक और अब्बास भी शामिल

निर्दोषों को मार रहे कायर आतंकियों के खिलाफ फौज के रखे विध्वंसक रूप के बाद अब आतंकियों के पैर उखड़ने लगे हैं और उन्हें माकूल जवाब मिलने लगे हैं .. एक के बाद एक हो रही मुठभेड़ों में वो सभी आतंक के आका मारे जा रहे हैं जो कभी बने हुए थे कश्मीर के कलंक .. एक बार फिर से शोपियां में गरजी हैं सेना की बंदूकें और सदा के लिए खामोश हो गए हैं 6 दुर्दांत आतंकी जो बने हुए थे भारत की शांति व सद्भावना के दुश्मन .. न सिर्फ कश्मीर बल्कि पूरे देश मे इस मुठभेड़ के बाद खुशी की लहर दौड़ गयी है ..

विदित हो कि आतंक के आकाओं पर कड़ा प्रहार करते हुए एक बार फिर से सेना ने मार गिराया है 6 कुख्यात आतंकियों को ..ये मुठभेड़ आमने सामने की थी जो फौज के तमाम प्रयास के बाद भी हथियार डालने को तैयार नही हुए थे .  मारे गए सभी आतंकी दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले के बतागुण्ड इलाके में घेरे गए थे .. आमने सामने हुई इस जंग में न सिर्फ सेना बल्कि CRPF , और कश्मीर पुलिस भी शामिल रही ।। सेना की 34 राष्ट्रीय राइफल्स के साथ कश्मीर के विशेष पुलिस बल SOG ने भी इस महाभियान में हिस्सा लिया था ..फिलहाल इलाके की तलाशी अभियान अभी जारी है आउट मुठभेड़ खत्म हो गयी है ..

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अब तक 4 आतंकियों की लाश बरामद कर ली गयी है बाकी 2 लाशें जल्द ही बरामद होने की संभावना है ..मारे गए सभी आतंकी हिजबुल मुजाहिदीन समूह से हैं जो इस समय कश्मीर में निर्दोषों का खून बहाने के लिये कुख्यात है . इन सभी आतंकियों में हिजबुल का जिला कमांडर मुश्ताक भी शामिल है .सेना को ऑपरेशन में हल्का प्रतिरोध झेलना पड़ा था लेकिन आखिरकार ऑपरेशन सफल रहा.. इस मुठभेड़ में राष्ट्र का एक रक्षक सैनिक भी घायल हुआ है जिसे अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया है .. सेना के शौर्य की हर तरफ प्रशंसा की जा रही है .. मारे गए आतंकियों के नाम मुश्ताक मीर, अब्बास , वसीम, उमर माजिद, खालिद फारुख बताए जा रहे हैं जबकि एक अन्य के पाकिस्तानी होने की संभावना है ..

Share This Post

Leave a Reply