बाल्मीकी समाज पर टिप्पणी से सहारनपुर के हिन्दू संगठन सड़कों पर.. खामोश हैं दलितों की तथाकथित मसीहा मायावती..

वाल्मिकी समाज पर अभिनेता सलमान खान द्वारा की गई टिप्पणी से पैदा हुआ तूल थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी क्रम में सहारनपुर में वाल्मीकि समाज ने रोष जताते हुए सलमान खान के खिलाफ रैली निकाली और उनका पुतला फूंका। वाल्मीकि समाज के लोगो ने आरोप लगाया कि एक टीवी साक्षात्कार के दौरान सलमान और शिल्पा शेट्टी ने वाल्मीकि समाज के प्रति जातिसूचक शब्दों का प्रयोग किया है। इसके बाद से ही समाज का युवा वर्ग में काफी रोष में है।

आपको बता दे कि फिल्म अभिनेता सलमान खान द्वारा एक साक्षात्कार के दौरान वाल्मीकि समाज को लेकर प्रयोग किए गए शब्दों से आहत वाल्मीकि समाज में दूसरे दिन आक्रोश नजर आया। समाज के लोगों ने सलमान खान के खिलाफ नारेबाजी की और जाम लगाकर सलमान खान का पुतला फूंका। यहां तक कि वाल्मीकि समाज ने चेतावनी दी कि जब तक सलमान खान सार्वजनिक रूप से माफी नहीं मांग लेते, तब तक विरोध प्रदर्शन जारी रहेगा।

राष्ट्रीय दलित महासंघ उत्तर प्रदेश के बैनर तले वाल्मीकि समाज के सैकड़ों लोग नगर निगम परिसर में एकत्रित हुए और वहां से सलमान खान के खिलाफ नारेबाजी करते हुए जुलूस के रूप में घंटाघर चौक पहुंचे।
घंटाघर चौक पर मानव श्रृंखला बनाकर जाम लगाया गया और पुतला जलाया गया। महासंघ के जिलाध्यक्ष राधेश्याम बबलू, सुरजीत घाघट, भारत राज और अन्य ने चेतावनी देते हुए कहा कि किसी भी सूरत में वाल्मीकि समाज का अपमान सहन नहीं किया जाएगा।

कोई भी व्यक्ति यदि वाल्मीकि समाज का अपमान करेगा या अपशब्दों का प्रयोग करेगा तो उसे सबक सिखाने का काम किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यदि सलमान खान ने माफी नहीं मांगी तो देशभर में उग्र आंदोलन किया होगा।
वाल्मीकि समाज ने भारत बंद कराने की चेतावनी भी दी है। इसके अलावा भारतीय वाल्मीकि धर्म समाज की ओर से मंडल अध्यक्ष सोनू बिरला द्वारा प्रदेश के मुख्यमंत्री को भेजे शिकायती पत्र में सलमान खान और शिल्पा शेट्टी के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज करने, सलमान खान की फिल्म टाइगर जिंदा है पर यूपी में रोक लगाने की मांग की गई है।

Share This Post

Leave a Reply