Breaking News:

इज्तिमा से मिले मनोबल का असर दिखना शुरू.. योगीराज यूपी में महासम्मेलन करने के बाद मोदीराज दिल्ली में बाबरी के समर्थन में निकल रही रैली

उन्होंने भारत के सबसे बड़े हिंदुत्व ब्रांड कहे जाने वाले योगी आदित्यनाथ जी की सत्ता वाले राज्य उत्तर प्रदेश में “तब्लीगी इज्तिमा” के रूप में महासम्मेलन किया. निश्चित रूप से इस सम्मलेन में में ऐसे कुछ संगीन मुदद्दों पर चर्चा हुई होगी, यद्यपि वहां मीडिया का जाना बैन था. अब इन्हीं सब आयोजनों से मिले समर्थन व तथाकथित बुद्धिजीवी लोगों का साथ पाकर दो कदम और आगे बढाया जा रहा है तथा अब सीधे सीधे बाबरी मस्जिद के लिए रैली निकालने का एलान कर दिया गया है. विदित हो कि बुलंदशहर में जिस तरह से इज्तिमा से लौटते समय ट्रेन में पथराव, आगजनी जैसी घटनाएँ की गईं, उसके बाद अब कुछ कट्टरपंथियों के मनोबल तेजी से बढ़ रहे हैं. ताजा जानकारी के अनुसार देश की राजधानी दिल्ली में बाबरी मस्जिद के लिए आज रैली निकाली जा रही है. ये रैली कर्नाटक तथा केरल में हिन्दुओं के नरसंहार के लिए सुरक्षा एजेंसियों की रडार पर चल रही PFI का विंग SDPI निकाल रहा है.

खबर के मुताबिक़, कट्टरपंथियों द्वारा दिल्ली में बाबरी मस्जिद के हक में निकाली जा रही ये रैली मंडी हाउस से संसद तक जाएगी. रैली निकालने वाले मजहबी नेता तस्लीम रहमानी ने कहा कि नेताओं की बयानवाजी और साधु संतों की भीड़ देखकर ये नहीं समझना चाहिए कि बाबरी मस्जिद का दावा खत्म हो गया है. अगर वीएचपी अयोध्या में पांच लाख लोगों की भीड़ जुटा सकती है तो हम भी अयोध्या में 25 लाख लोगों की भीड़ जुटा सकते हैं.

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान SDPI  ने कहा, कि हमने कभी बाबरी मस्जिद पर दावा नहीं छोड़ा, हम दोबारा बाबरी मस्जिद बनाएंगे. हमारी कानूनी लड़ाई जारी रहेगी. उन्होंने कहा कि बाबरी मस्जिद पर हमारा दावा हमेशा रहेगा, क्योंकि पूर्व पीएम नरसिम्हा राव ने बाबरी मस्जिद को बनाने का वादा किया था. साथ ही ये भी कहा कि अयोध्या में रखी गई मूर्तियों को तब तक हटाया जाए, जब तक ये मामला अदालत में चल रहा है.

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *