Breaking News:

सरदार पटेल की विश्वविक्रमी प्रतिमा के बीच आया गांधी का नाम… लाने वाले हैं कांग्रेस के शशि थरूर

देश के पहले गृहमंत्री तथा हिंदुस्तान को एकता के सूत्र में पिरोने वाले राष्ट्रनायक-लौहपुरुष सरदार पटेल की दुनिया की सबसे ऊँची प्रतिमा बनाये जाने के बाद राजनैतिक घमासान शुरू हो गया है. विपक्ष सरदार पटेल की प्रतिमा पर संभल कर बयान दे रहा है लेकिन इसके बाद भी विपक्ष की झुंझलाहट सामने आ ही रही है. सरदार पटेल की विश्वविक्रमी प्रतिमा पर आ रहे राजनैतिक बयानों में अब गांधी जी का नाम भी लपेटे में आ गया है.

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने बुधवार को कहा कि बीजेपी ने महात्मा गांधी की कोई बड़ी प्रतिमा क्यों नहीं बनाई जबकि उन्होंने उनके शिष्य सरदार वल्लभ भाई पटेल की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा का निर्माण किया. उन्होंने तिरुवनंतपुरम में कांग्रेस समिति कार्यालय में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि देश में महात्मा गांधी की इस तरह की कोई विशाल प्रतिमा नहीं है. शशि थरूर ने पूछा,‘‘महात्मा गांधी के शिष्य के लिए 182 मीटर ऊंची प्रतिमा है. देश में गांधी जी के शिष्य के लिए इतनी बड़ी प्रतिमा क्यों है जहां महात्मा के लिए उस आकार की कोई प्रतिमा नहीं है?.’’

थरूर ने आगे कहा,‘‘पटेल, एक बहुत सरल व्यक्ति थे, जो गांधी जी के शिष्य के रूप में जाने जाते थे.’’ शशि थरूर ने कहा,‘‘मैं एक सवाल पूछ रहा हूं…क्या सादगी पसंद एक व्यक्ति और एक सच्चे गांधीवादी पटेल की इस तरह की भव्य प्रतिमा बनाया जाना ठीक है.’’ शशि थरूर ने कहा कि बीजेपी के पास इस सवाल का जवाब नहीं है कि उन्होंने महात्मा गांधी की बड़ी प्रतिमा का निर्माण क्यों नहीं किया. उन्होंने आरोप लगाया कि यही कारण है कि बीजेपी महात्मा गांधी के अहिंसा के सिद्धांतों में विश्वास नहीं करते.’’ कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि बीजेपी स्वतंत्रता सेनानियों और पटेल जैसे राष्ट्रीय नायकों की विरासत को ‘‘हाइजैक’’ करने का प्रयास कर रही है. उन्होंने कहा कि पटेल एक कांग्रेस नेता थे और बीजेपी को उन्हें अपनाने की अनुमति नहीं दी जायेगी. थरूर ने दावा किया,‘‘पटेल ने गांधी जी के साथ काम किया था और कांग्रेस पार्टी को मजबूत किया था. हम उन्हें हमेशा याद रखेंगे.’’

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *