SC / ST एक्ट के विरोध में भारत बंद करने वालों के खिलाफ आया मायावती का बयान

भले ही बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने कुछ समय पहले भीम आर्मी के हिंसक प्रदर्शनों पर कुछ भी न बोला हो लेकिन लगभग शांतिपूर्ण ढंग से मांगी गई sc st एक्ट में बदलाव की मांग को उन्होंने एक घिनौनी राजनीति करार दे डाला है और इसमे हिंदुओं को लपेटने की हर सम्भव कोशिश भी शुरू कर दी है ..मायावती के इस बयान से सवर्ण समाज को एक बड़ा झटका माना जा रहा है क्योंकि बहुजन समाज पार्टी के कई सवर्ण नेता अब तक इस मुद्दे पर खामोश रहे थे ..

एससी-एसटी एक्ट को लेकर 6 सितंबर को सवर्णों के भारत बंद को पर बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने कहा है कि यह लोगों की गलत धारणा है कि एससी/एसटी एक्ट का दुरुपयोग और दूसरी जातियों पर बनाया जाएगा. मायावती ने कहा कि मेरी पार्टी इस विचार से सहमत नहीं है. बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि बीजेपी और आरएसएस घिनौनी राजनीति कर रही है और उसके ही शासन वाले राज्यों में सबसे ज्यादा विरोध हो रहा है. इस मामले में बीजेपी साजिश कर रही है और राजनीतिक स्वार्थ के लिये इसका विरोध हो रहा है.

उन्होंने कहा कि देश में बीजेपी का जनाधार कम हो गया है. बीजेपी ने एससी/एसटी एक्ट के साथ खिलवाड़ किया है. दरअसल आरएसएस की मानसिकता जातिवादी और बीजेपी की नीतियां एससी/एसटी विरोधी है. मायावती के अनुसार इस क़ानून में संसद द्वारा किए संशोधन की समीक्षा किसी भी हाल में नहीं होनी चाहिये और इसमें बदलाव की मांग करनेवालों को एससी-एसटी को लेकर अपने व्यवहार में बदलाव लाना चाहिए, उनसे अच्छे से पेश होना चाहिए.

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *