“जब तक गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा नहीं मिल जाता, ये खून खराबा रुकने वाला नहीं है”… भाजपा विधायक के बयान से आया राजनैतिक तूफ़ान

फिलहाल देशभर में मॉब लिंचिंग पर सियासत जारी है तथा सम्पूर्ण विपक्ष व तथाकथित धर्मनिरपेक्ष व बुद्धिजीवी लोग मॉब लिंचिंग को लेकर सत्तासीन भाजपा तथा हिंदूवादी संगठनों पर हमलावर हैं. गौरतलब है कि हाल ही में राजस्थान के अलवर में गौतस्कर रकबर खान की कुछ गौरक्ष्कों के साथ भिड़त हो गयी थी तथा बाद में रकबर खान की म्रत्यु हो गयी थी. अलवर की इसी घटना के बाद पूरे देश में राजनैतिक तूफ़ान आया हुआ है तथा मॉब लिंचिंग की आड़ में एक तरफ जहाँ गौरक्षकों को निशाना बनाया जा रहा है वहीं गौतस्करी को भी जयाज ठहराने की कोशिश की जा रही है.

गौतस्करी तथा मॉब लिंचिंग पर मचे बवाल के बीच एक भाजपा विधायक के बयान पर हंगामा मच गया है. तेलंगाना के गोशामहल से भारतीय जनता पार्टी के विधायक टी राजा सिंह(टाइगर) ने रविवार को मॉब लिंचिंग को लेकर एक बयान देते हुए कहा कि गाय की रक्षा के लिए लड़ा जा रहा ये युद्ध तब नहीं रुकेगा जब तक देश में गाय को राष्ट्र माता का दर्जा नहीं मिल जाता. टाइगर राजा सिंह ने ये बयान लिंचिंग की घटनाओं को लेकर दिया. टाइगर राजा सिंह ने कहा कि गाय हमारी माता है तथा ये जानने के बाद भी कि गाय हिन्दुओं के लिए पूज्य है, फिर भी गौतस्करी करना आपने आप मॉब लिंचिंग को बढ़ावा देना है. टाइगर राजा सिंह ने कहा कि अगर ये खून खराबा, लिंचिंग बंद करनी है तो गौतस्करी रोकनी होगी तथा गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा देना होगा.

भाजपा विधायक टाइगर राजा सिंह ने आपने फेसबुक विडियो के माध्यम से कहा कि मैं सांसदो से अपील करता हूं अगर वो खून खराबा नहीं चाहते हैं तो इस मांग को संसद में उठाएं.मुझे लगता है कि गौ रक्षा की लड़ाई नहीं रुकेगी, चाहे गौरक्षकों को जेल में डाल दिया या फिर गोलियों से भून दिया जाय, गौरक्षक आपने सामने अपनी गौमाता का क़त्ल होते हुए नहीं देख सकते हैं, फिर चाहे उन पर गोलियां क्यों न चलाई जाएँ. उन्होंने कहा कि वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस पर समर्थन चाहते हैं. टी राजा सिंह ने कहा कि गाय की रक्षा के लिए हर राज्य में गौ-रक्षा मंत्रालय बनाना होगा और इसको लेकर कठोर कानून बनाने होंगे. सात मिनट के इस वीडियो में उन्होंने मीडिया पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि जब गौ-तस्करों की हत्या होती है तो वो इस विषय को उठाते हैं लेकिन गौ-रक्षकों की हत्या की खबरों को नजरअंदाज कर दते हैं.

Share This Post

Leave a Reply