“हिन्दुओं का क़त्ल करने में मजा आता है” कहने वाले लश्कर आतंकी नावेद को सदा के लिए खामोश कर दिया सेना ने

वो कहता था कि उसको हिन्दुओं का क़त्ल करने में मजा आता है. इसके बाद उसने कश्मीर में कई आतंकी वारदातों को अंजाम दिया था. कुछ ही दिनों पहले उसने पत्रकार सुजात बुखारी की भी ह्त्या कर दी थी. लेकिन शायद वह भूल गया था कि भारतीय सेना उसको रडार पर ले चुकी हैं. हम बात कर रहे हैं इस्लामिक आतंकी नवेद जट्ट की जिसे आतंकियों की काल देश की रक्षक भारतीय सेना ने मार गिराया है. हिन्दुओं का क़त्ल करके मजे लेने वाला नावेद भारतीय सेना की बंदूकों से निकली गोली से सदा के लिए खामोश हो गया है.

आपको बता दें कि सेना द्वारा मारा गया लश्कर आतंकी नावेद जट्ट फरवरी में श्री महाराजा हरिसिंह अस्पताल से फरार हो गया था. ‘राइजिंग कश्मीर’ के एडिटर इन चीफ शुजात बुखारी की 14 जून को श्रीनगर के प्रेस एन्क्लेव इलाके में बाइक सवार तीन लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. इस हमले में बुखारी के दो पर्सनल सिक्योरिटी ऑफिसर भी मारे गए थे. जानकारी के अनुसार राइजिंग कश्‍मीर के पत्रकार शुजात बुखारी की हत्‍या में शामिल लश्‍कर के आतंकी नावेद जट्ट को सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ के बाद मार गिराया है. नावेद जट्ट पिछले काफी समय से फरार बताया जा रहा था.

पत्रकार सुजात बुखारी की ह्त्या में शामिल दो आतंकी साउथ कश्मीर के रहने वाले थे, वहीं तीसरा पाकिस्तानी नागरिक था. हमले के तुरंत बाद पुलिस ने हमलावरों का सीसीटीवी फुटेज जारी की थी. शुरुआती जांच में ही बुखारी की हत्या में जट्ट की भूमिका की बात सामने आई थी. फरार आतंकी नावेद जट्ट पाकिस्तान में मुल्तान के साहिवाला इलाके का रहने वाला था. वह बीते कुछ वर्षों से दक्षिण कश्मीर में रहकर आतंकी गतिविधियों को अंजाम देता था. उस पर कई पुलिस पट्रोल पार्टी पर हमला करने का आरोप है.

Share This Post

Leave a Reply