अभिनंदन का अभिनंदन करने के लिए पूरा राष्ट्र बेचैन.. वो हीरो जो तन कर खड़ा रहा दुश्मन के खेमे में भी

पूरे देश में चिंता थी लेकिन उस वीर के चेहरे पर दृढ़ता थी . हर कोई उस महायोद्धा के लिए प्रार्थना कर रहा था लेकिन वो खुद राष्ट्र के लिए प्रार्थना करता रहा और दुनिया को दिखाया भारत का वो स्वरूप जो बदल कर रख देगा संसार में भारत की छवि को और दिखा देगा वो समय जो हमारे क्रांतिकारियों ने अंग्रेजो के समय और हमारे धर्म्रक्षाको ने मुगलों के समय दिखाया था. फिलहाल राष्ट्र का वही नायाक आख़िरकार भारत वापस आ रहा है शाही अंदाज़ में .

आज पूरे देश की निगाहें वाघा बॉर्डर पर हैं, क्योंकि आज इसी रास्ते विंग कमांडर अभिनंदन की वतन वापसी होगी। इस्लामाबाद में भारतीय ग्रुप कैप्टन जेडी कुरियन अभिनंदन को लेकर आएंगे। वहीं वाघा बॉर्डर पर अभिनंदन के स्वागत के लिए लोग जुट रहे हैं। पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह समेत वायुसेना के बड़े अधिकारी और मोदी सरकार के कई मंत्री भी बाघा बॉर्डर पर अभिनंदन का स्वागत करेंगे। इस दृश्य को देखने के लिए पूरी दुनिया की निगाह वाघा बार्डर पर होगी .

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्विटर पर लिखा, मैं पंजाब के सीमावर्ती क्षेत्रों का दौरा कर रहा हूं और इस वक्त अमृतसर में हूं। पाकिस्तान सरकार ने वाघा से अभिनंदन को भेजने का फैसला किया है। यह मेरे लिए सम्मान की बात होगी कि मैं उसके स्वागत में वहां रहूं और उसे रिसीव करूं. वायुसेना का एक प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को विंग कमांडर अभिनंदन को लेने वाघा सीमा जाएगा। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। भारतीय पक्ष इमरान खान की गंभीरता को लेकर अभी भी सहमत नहीं है। उन्‍होंने कहा कि इमरान ने शांति की बात अंतरराष्‍ट्रीय दबाव में कही। एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने कहा, ‘हमने उन्‍हें कहा था कि हम कोई चर्चा नहीं करेंगे।’

Share This Post