श्रीराम के मंदिर में सहयोग करें मुसलमान नहीं तो गुरु गोविन्द सिंह जी जैसा उत्तर देने वाला है हिन्दू समाज- केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह

अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण को लेकर भारतीय जनता पार्टी के फायरब्रांड नेता तथा केन्द्रीय मंत्री श्री गिरिराज सिंह के एक बयान से सियासी घमासान मच गया है. केंद्री मंत्री गिरिराज सिंह ने मुस्लिम समाज से मंदिर निर्माण में सहयोग की अपील करते हुए कहा कि मुस्लिम समुदाय मंदिर निर्माण में मदद करे, नहीं तो हिंदू अपनी आस्था के लिए गुरु गोविंद सिंह जी की तरह प्रतिकार करने पर मजबूर हो सकते हैं.

गिरिराज सिंह ने कहा कि मुगल काल से ही हिंदुओं का सिर्फ धर्म ही परिवर्तन नहीं कराया गया बल्कि हिंदुओं को खंड-खंड में बांटने के लिए जात पात की गंदी राजनीत की गई. षड्यंत्र करके हिन्दूओं को टुकड़े-टुकड़े में बांट दिया गया. पाकिस्तान में चुन-चुन कर मंदिरों को तोड़ा गया, पाकिस्तान में हिंदुओं की हो रही दुर्दशा के बावजूद हिंदुस्तान ने भारत में बचे हुए मुसलमानों को अपने सीने से लगा कर रखा. इस कारण आज अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भारत के मुसलमानों को आगे आना चाहिए.

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि अगर सरदार पटेल देश के पहले प्रधानमंत्री होते तो आज देश की ये दुर्दशा नहीं होती आज देश में नफरत नहीं फैलती. इस नफरत की दीवार को मु्स्लिम भाइयों को ही तोड़ना होगा. गिरिराज सिंह ने कहा कि 100 करोड़ हिंदू की आबादी वाले इस देश में अयोध्या में राम मंदिर नहीं बना तो हिंदुओं के सब्र का बांध टूटेगा और अगर ऐसा हुआ तो देश के लिए अंजाम अच्छा नहीं होगा. वो यहीं नहीं रूके उन्होंने कहा, हिंदू अपनी आस्था के लिए गुरु गोविंद सिंह की तरह प्रतिकार करने पर मजबूर हो सकते हैं. अगर देश का हर हिन्दू जागरूक हो जाए तो मंदिर बनाने के लिए किसी अदालत या सरकार की जरूरत नहीं पड़ेगी.

Share This Post

Leave a Reply