आतंकियों के खिलाफ भारत के सेनापति का बयान गौरवान्वित कर गया एक एक राष्ट्रभक्त को ..

भारतीय सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत ने देश के दुश्मन आतंकियों के खिलाफ बड़ा बयान दिया है. जनरल विपिन रावत ने आतंकियों को चेताते हुए कहा है कि हम कश्मीर में शांति चाहते हैं, अगर वहां आतंकी आते रहेंगे तो हम उनको मारते रहेंगे. जनरल विपिन रावत ने कहा कि कश्मीर में भारतीय सेना आतंकियों से मुकाबले के लिए, उनके खात्मे के लिए हमेशा तत्पर है. उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य कश्मीर में शांति स्थापित करना है लेकिन इसके बाद भी अगर आतंकी आते रहेंगे तो हम उनको मारते रहेंगे.

आपको बता दें कि सेना प्रमुख बिपिन रावत ने गुरुवार को सालाना प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि भारतीय सेना हर तरह से मुस्तैद है, हमने चीन और पाकिस्तान दोनों फ्रंटों पर काफी अच्छा काम किया है. उन्होंने कहा कि हम नरम और सख्त दोनों पहलुओं को लेकर चल रहे हैं. रावत ने यहां सेना से जुड़े अलग-अलग मुद्दों पर बयान दिया. उन्होंने कहा कि चीन और पाकिस्तान के मसले को हमने अच्छी तरह से संभाला है. सेना प्रमुख ने कहा कि जबकि जम्मू-कश्मीर में स्थिति को अभी और भी सुधारा जा सकता है. कश्मीर मसले पर उन्होंने कहा कि हम वहां आम लोगों को निशाना नहीं बनाते हैं लेकिन हम ये भी जानते हैं कि उस जमीन पर आतंकी मौजूद हैं. उन्होंने कहा कि वहां कितने आतंकी मारे गए इससे सफलता तय नहीं होती है. जब भी आतंकी मरता है तो वहां के लोग उनकी तारीफ करते हैं और उनके हक में खड़े होते हैं.

आर्मी चीफ ने कहा कि कश्मीर में हिंसा होती रहेगी. अगर आतंकी मरेंगे तो नए आतंकी आएंगे और अगर  आतंकी आएंगे तो हम उनको मारते रहेंगे क्योंकि हमारा उद्देश्य कश्मीर में शांति स्थापित करना है.

सीजफायर पर उन्होंने कहा कि अगर कोई बॉर्डर पर आता है तो तुरंत फायरिंग शुरू हो जाती है, यही कारण है कि सीजफायर की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं. इसके अलावा सेना प्रमुख ने कहा कि जब हमारे जवान माइन्ड एरिया में जाते थे तो काफी नुकसान होता था, इसलिए हम अब वहां पर ड्रोन का इस्तेमाल कर रहे हैं. उन्होंने कहा भारतीय सेना किसी भी तरह से आतंकियों के मंसूबों को कामयाब नहीं होने देगी.

Share This Post