दिग्गज मुस्लिम नेता का देवबंद पर करारा हमला.. कहा- “आतंक का चेहरा है देवबंद”

देवबंद कहने को तो इस्लामिक शिक्षा का केंद्र है लेकिन हकीकत में देवबंद आतंक का एक चेहरा है. ये बात किसी भाजपा नेता या हिंदू संगठन ने नेता ने नहीं बल्कि मुस्लिम नेता ने ही बोली है. शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन तथा कद्दावर मुस्लिम नेता सैय्यद वसीम रिज़वी ने दारुल उलूम देवबंद पर करार हमला बोलते हुए कहा है कि आज के समय में देवबंद आतंक का चेहरा बन चुका है. उन्होंने देवबंद का नाम बदलने की मांग करते हुए कहा, ‘इसी छवि के कारण देवबंद बदनाम हो रहा है.’ दारुल उलूम और यहां से जारी फतवों पर भी उन्होंने कई सवाल उठाए हैं.

शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन सैय्यद वसीम रिज़वी ने शुक्रवार को कहा कि देवबंद की पहचान आतंक के चेहरे के रुप में बन चुकी है. इसलिए इसका नाम बदला जाना बेहद जरूरी है. नाम बदनाम होने की एक वजह यहां से जारी होने वाले फतवे भी हैं. वसीम रिज़वी ने कहा कि देवबंद से निकलने वाले फतवों की वजह से पूरे मुल्क के मुसलमानों पर छींटाकशी की जाती है. वसीम रिज़वी ने देवबंद पर हमला करते हुए कहा कि जहां फतवों की जरूरत होती है वहां पर डर की वजह से उलमा फतवे नहीं देते.

वसीम रिज़वी ने कहा कि आपत्तिजनक फतवे जारी करना इनकी आदत बन गई है. उन्होंने कहा कि इसी कारण देवबंद से यहां से जारी होने वाले फतवों को मुस्लिम समाज ही नहीं मानता है. शिया वक्फ बोर्ड ने चेयरमैन रिजवी ने यह भी कहा कि देवबंदी और दूसरी सुन्नी जमातों में बहुत अंतर है. पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि मुझे पता है, नाम बदलने से कुछ नहीं होगा, लेकिन जिन लोगों (उलमा) की वजह से नाम बदला जाएगा, कम से कम उन्हें शर्म तो आएगी.

Share This Post

Leave a Reply