बाबरी ढांचा को कलंक बताया मुस्लिम नेता ने तो भड़क उठे देवबंदी उलेमा, बोले- “गद्दार तथा दहशतगर्द है ये मुस्लिम नेता”

अयोध्या श्रीराम की जन्मभूमि है किसी बाबर की नहीं, इसलिए हिंदुस्तान की पावन व पवित्र भूमि पर बाबरी मस्जिद का ढांचा कलंक है. अयोध्या में कोई बाबरी मस्जिद नहीं बल्कि श्रीराम मंदिर बनेगा. ये कहना है मुस्लिम विचारक तथा शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन सैय्यद वसीम रिजवी का. वसीम रिजवी द्वारा बाबरी मस्जिद के ढाँचे को कलंक बताये जाने पर देवबंदी उलेमा आगबबूला हो गए हैं तथा उन्होंने वसीम रिजवी को गद्दार तथा दहशतगर्द करार दिया है.

देवबंदी उलेमा ने कहा कि वसीम रिजवी देश के सबसे बडे़ गद्दार और सबसे बडे़ दहशतगर्द हैं. सरकार को इस शख्स की जुबान पर लगाम लगानी चाहिए ताकि देश में अमन कायम रह सके. शुक्रवार को ऑल इंडिया मिल्ली तंजीम अल फैज के अध्यक्ष मौलाना मुस्तफा ने कहा कि बाबरी मस्जिद को लेकर वसीम रिजवी जिस तरह की बयानबाजी कर रहे हैं वो सरासर गलत है. ऐसा बयान कोई पागल आदमी ही दे सकता है. उन्होंने कहा कि जिस आदमी के अंदर सूझबूझ और समझदारी बिल्कुल ही न हो ऐसा शख्स देश का गद्दार ही नहीं बल्कि देश का सबसे बड़ा दहशतगर्द है.

मौलाना मुस्तफा ने कहा कि जो शख्स देश के माहौल को खराब करे, देश के अमन को बिगाड़ने की कोशिश करे, देश के बेशुमार लोगों के दिलों को ठेस पहुंचाए, किसी भी धर्म के मानने वालों को या किसी भी धर्म के धर्मस्थलों को बुरा कहे तो वो देश का सबसे बड़ा दहशतगर्द गद्दार है. उन्होंने कहा कि ऐसे शख्स के खिलाफ हुकूमतें हिंद को सख्त से सख्त कार्रवाई करनी चाहिए और उनकी जुबान पर लगाम लगानी चाहिए.

Share This Post

Leave a Reply