Breaking News:

जिस कन्हैया व खालिद को गले लगाया प्रधानमन्त्री की रेस में शामिल कुछ बड़े लोगों ने,, उन्हीं के खिलाफ JNU नारे मामले में मिले सबूत

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी(JNU) में देशविरोधी नारे मामले में देशद्रोह के आरोपी कन्हैया कुमार तथा उमर खालिद के खिलाफ दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने चार्जशीट तैयार कर ली है जिसे जल्द की दाखिल किया जाएगा. कन्हैया कुमार तथा उमर खालिद के खिलाफ दिल्ली पुलिस को तमाम सबूत मिल चुके हैं. कन्हैया तथा खालिद के खिलाफ दिल्ली पुलिस की ये चार्जशीट उन तमाम राजनेताओं को भी एक आईना है जो खुद को प्रधानमन्त्री पद का दावेदार बताते हैं तथा जिन्होंने अपनी राजनीति के लिए कन्हैया कुमार तथा उमर खालिद को गले लगाया था, उनका समर्थन किया था.

स्पेशल सेल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने कन्हैया कुमार, उमर खालिद और अनिबार्य भट्टाचार्ज को मुख्य आरोपी बनाया है. इनके अलावा आठ और लोगों को चार्जशीट में शामिल किया है. जिन आठ लोगों को इस चार्जशीट में आरोपी बनाया गया है, उनके खिलाफ पुलिस के पास पुख्ता सबूत हैं. इनमें से दो जेएनयू छात्र, दो जामिया के छात्र, एक एएमयू छात्र, एक मुरादनगर का रहने वाला डॉक्टर और दो अन्य छात्र शामिल हैं. ये सभी 8 छात्र कश्मीर के रहने वाले हैं. इस ड्राफ्ट चार्जशीट को सरकारी अभियोजक के पास देखने के लिए भेजा गया है. उम्मीद की जा रही है कि जल्द ही इसे पटियाला हाउस कोर्ट में दाखिल किया जाएगा. पुलिस ने चार्जशीट में नाम दर्ज करने से पहले उनके फेसबुक प्रोफाइल को खंगाला, जहां से कई सबूत उनके हाथ लगे हैं.

आपको बता दें कि जेएनयू के छात्र उमर खालिद, कन्हैया कुमार और अनिर्बान भट्टाचार्य पर 9 फरवरी 2016 को जेएनयू परिसर में साबरमती ढाबा में छात्र कविता पाठ के दौरान राष्ट्रविरोधी नारेबाजी करने का आरोप है. इस मामले की जांच करने वाली जेएनयू ने उच्चस्तरीय समिति ने अनुशासनिक मानदंडों का उल्लंघन करने के आरोप में 13 छात्रों पर जुर्माना लगाने और उमर खालिद के निष्कासन करने की सिफारिश की. पुलिस सूत्रों के मुताबिक, सबूत के तौर पर घटना के वक़्त के कई वीडियो फुटेज सीबीआई की सीएफएसएल में जांच के लिए भेजे गए थे, जिसके नमूने पोजिटिव पाए गए थे. इसके अलावा मौके पर मौजूद कई लोगों के बयान, मोबाइल फुटेज, फेसबुक पोस्ट भी शामिल हैं. वहीं, जेएनयू प्रशासन, एबीवीपी स्टूडेंट, सिक्योरिटी गार्ड और कुछ छात्र गवाह हैं.

Share This Post

Leave a Reply