दिल्ली में सब इंस्पेक्टर को गोली मारकर भागे 3 बांग्लादेशी डाकू गिरफ्तार हुए… सन्न होकर राष्ट्र देख रहा नकली धर्मनिरपेक्षता के दुष्परिणाम

तथाकथित राजनेताओं तथा बुद्धिजीवियों द्वारा अपनी स्वार्थी राजनीति के लिए जो छद्म धर्मनिरपेक्षता की पौध तैयार की गई थी, वो अब हिंदुस्तान की सुरक्षा के लिए ही नासूर बन रही है, एक बड़ा खतरा बन रही है. आश्चर्य की बात तो ये है कि इस सबके बाद भी ये लोग इस नकली धर्मनिरपेक्षता का चोला उतारने को तैयार नहीं है. खबर के मुताबिक़, दिल्ली में दरोगा को गोली मारकर भागे बांग्लादेशी तीन डकैतों को कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर दिल्ली पुलिस ने कानपुर पुलिस की मदद से दबोच लिया लेकिन स्टेशन पर भीड़-भाड़ का फायदा उठाकर तीन डकैत भाग निकले. लोकेशन के आधार पर फरार डकैतों की तलाश में पुलिस की एक टीम फतेहपुर गई है. शहर और दिल्ली पुलिस पकड़े गए डकैतों से पूछताछ कर रही है.

पुलिस ने बताया कि बृहस्पतिवार को दिल्ली के प्रीत विहार इलाके में कारोबारी पुष्कर जैन के घर में डकैतों ने धावा बोल दिया था. डकैत पुष्कर के घर में लूटपाट कर रहे थे. उसी दौरान एक पड़ोसी ने दिल्ली पुलिस कंट्रोल रूम को इसकी सूचना दे दी थी. प्रीत विहार थाने के दरोगा लोकेश कुमार अपनी टीम के साथ वहां पहुंचे और पीसीआर वैन भी पहुंच गई. पुलिस और डकैतों में फायरिंग हुई थी. डकैतों की गोली दरोगा लोकेश के कंधे में लगी थी. इसके बाद डकैत रेलवे लाइन की तरफ से भाग निकले थे. दिल्ली पुलिस टीम डकैतों की तलाश में लगी थी. डकैतों के पश्चिम बंगाल की तरफ भागने की आशंका के चलते एक टीम पश्चिम बंगाल भी रवाना की गई. दिल्ली पूर्वी स्पेशल टीम और दिल्ली पुलिस की टीमें डकैतों की लोकेशन के आधार पर शनिवार सुबह कानपुर सेंट्रल स्टेशन पहुंचीं. यहां आरपीएफ प्रभारी राजीव वर्मा, जीआरपी प्रभारी राम मोहन राय से संपर्क किया.

इसके बाद दिल्ली पुलिस ने जीआरपी, आरपीएफ और रेलबाजार थानाध्यक्ष मनोज रघुवंशी की टीम के साथ स्टेशन पर डेरा डाल दिया. दोपहर में प्लेटफार्म नंबर-पांच पर दिल्ली से आने वाली नंदन-कानन एक्सप्रेस पहुंची तो पुलिस ने उसे घेर लिया.  20 पुलिस कर्मियों ने पूरी ट्रेन को चेक किया लेकिन डकैत भाग निकले. पुलिस टीम ने पीछा करके सेंट्रल स्टेशन के घंटाघर की तरफ आरक्षण केंद्र के पास से तीन डकैतों को दबोच लिया लेकिन तीन डकैत भाग गए. पुलिस के मुताबिक पकड़े गए डकैत बांग्लादेश के रहने वाले इकराम, लड्डू और सलीम हैं. इकराम गैंग लीडर है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक पकड़े गए डकैतों से पूछताछ की जा रही है.

Share This Post

Leave a Reply