ममता शासित बंगाल में जारी है श्रृंखलाबद्ध नरसंहार . एक और BJP नेता की बेरहमी से हत्या .. हिन्दुओ की आवाज उठाने वाले शक्तिपदा सदा के लिए खामोश किये गये

असहिष्णुता की आवाज को उठाने वालों की बंगाल में ख़ामोशी के चलते लगातार नरसंहारों का श्रृंखला जारी है . एक के बाद एक हिन्दू नेताओं और भारतीय जनता पार्टी के नेताओं की हत्या से बंगाल रक्तरंजित हो गया है लेकिन आज तक शायद ही मानवाधिकार आयोग या असहिष्णुता वालों ने इस मुद्दे पर एक भी शब्द बोला हो . ज्ञात हो की एक बार फिर बंगाल हुआ है लहू लुहान और कत्ल हो गया एक भारतीय जनता पार्टी के नेता का .

विदित हो की ममता बनर्जी भले ही आज का अपने प्रदेश से ज्यादा दिल्ली की राजनीति और राष्ट्रीय स्तर पर गठबंधन बनाने में व्यस्त हों लेकिन उनके शासित पश्चिम बंगाल में सिलसिलेवार हत्याओं का क्रम अभी भी जारी है . हिन्दू नेताओं और भारतीय जनता पार्टी के बड़े नामो को निशाना बनाने की असामाजिक तत्वों की मुहिम में अब 24 परगना जिले के मंदिर बाजार के स्थानीय भाजपा नेता को बीच रास्ते मौत के घाट उतार दिया गया है ..अपने क्षेत्र में हिन्दुओं की आवाज उठाने वाले इस मृतक बीजेपी नेता की पहचान शक्तिपदा सरदार के रूप में हुई है.  हत्यारों ने घात लगा कर हमला किया जिसमे इन्हे बुरी तरह से घायल किया गया और अस्पताल तक ले जाते जाते इनकी मौत हो गयी . 

मृतक नेता भाजपा के मंडल समिति सचिव हैं. सूत्रों से मिली सूचना के अनुसार यह घटना कल रात हुई जब वह काम से वापस घर से लौट रहे थे. कुछ दुश्मनों ने उन पर तेज धार वाले हथियार से हमला किया. हमले के बाद दुश्मन उन्हें खून से लथपथ हालत में सड़क के किनारे छोड़ कर फरार हो गए. बाद में, जब स्थानीय लोगों ने उन्हें देखा तो उन्हें हीरा बंदरगाह अस्पताल ले जाया गया. अस्पताल में इलाज के दौरान उनके स्वास्थ्य कोई सुधार नहीं हुआ. बाद में गंभीर हालत को देखते हुए बीजेपी नेता को कोलकाता के एक अस्पताल में रेफर कर दिया गया. हालांकि उन्होंने कोलकाता के उस अस्पताल पहुंचने से पहले रास्ते में ही दम तोड़ दिया. इस बीच, मंदिर बाजार पुलिस स्टेशन ने मामले की जांच शुरू कर दी है.
भाजपा के कार्यकर्ता हत्या के पीछे टीएमसी कार्यकर्ताओं को दोषी ठहरा रहे हैं.           

Share This Post

Leave a Reply