Breaking News:

सबरीमाला में वामपंथी सरकार ने जो कुछ भी किया उसको कहा जा सकता है “हिन्दुओ का रेप” – केन्द्रीय मंत्री

बुधवार को दो महिलाएं मंदिर में दर्शन कर जैसे ही लौटी उसके बाद बुधवार को मंदिर को बंद कर दिया गया और मंदिर के शुद्धिकरण के बाद मंदिर के कपाट को दोबारा खोल दिया गया. इसके बाद अचानक ही हिन्दू समाज भड़क गया था जिसके बाद हिन्दूवादी संगठनों ने केरल में हिंसक प्रदर्शन किया था. राज्य सचिवालय करीब पांच घंटे तक संघर्ष स्थल में तब्दील हो गया और सत्तारूढ माकपा तथा बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई और उन्होंने एक दूसरे पर पत्थर फेंके थे. पुलिस को स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पानी की बौछार और आंसू गैस के गोलों का सहारा लेना पड़ा था.

इसी मुद्दे पर बोलते हुए एक इंटरव्यू में केन्द्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े बुरी तरह से भड़क गये और उनके मन की पीड़ा एक बयान के रूप में सामने आई जिसको कुछ लोगों द्वारा विवादित भी कहा जा रहा है . अपने मन के भाव व्यक्त करते हुए आक्रोश में बोल गये केन्द्रीय मंत्री अनंत हेगड़े ने केरल सरकार पर हमला करते हुए कहा कि केरल सरकार सबरीमाला मामले में पूरी तरह से नाकाम रही है। एक तरह से ये हिंदुओं का दिनदहाड़े दुष्कर्म है.

केन्द्रीय मंत्री हेगड़े ने इस मुद्दे पर आगे कहा कि केरल के मुख्यमंत्री लेफ्ट की विचारधार और पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर कार्रवाई कर रहे हैं जिसकी वजह से प्रदेश में संशय की स्थिति है। सुप्रीम कोर्ट ने जो निर्देश दिया है उससे मैं पूरी तरह से सहमत हूं, लेकिन कानून व्यवस्था राज्य का विषय है। लिहाजा सरकार को यह देखना चाहिए था कि वह कैसे कूटनीतिक तरीके से इस समस्या का समाधान करती और लोगों को किसी तरह की दिक्कत नहीं होती। उन्होंने कहा कि केरल सरकार पूरी तरह से विफल हो चुकी है। मैं कहूंगा कि यह पूरी तरह से प्रदेश में हिंदुओं के साथ दिन में रेप किया गया है।

Share This Post