UP के मुज़फ्फरनगर में भी पुलिस पर हमला.. डायल 100 पर दुस्साहसिक हमले के गुनाहगारों में आस मौहम्मद, इकरामुदीन, मुस्तकीम, साबिर और निसार शामिल

उत्तर प्रदेश की पुलिस पर सिलसिलेवार हमलों का क्रम देखने को मिल रहा है . जिस प्रकार से सीमा के उस पास से आये आतंकियों ने राष्ट्र के रक्षक सैनिको को निशाने पर लिया है वैसे देश के अन्दर के ही कुछ तत्व देश में पुलिस वालों पर लगातार हमले किये जा रहे हैं . उनके मन में आख़िरकार पुलिस वालों को ले कर वो कौन सी नफरत है जो उनको बार बार आक्रामक होने पर मजबूर कर रही है ये जरूर मंथन का विषय है .. कम से कम एक सुरक्षित समाज के लिए .

ज्ञात हो कि इस बार हमले का शिकार बनी है उत्तर प्रदेश के मुज़फ्फरनगर की पुलिस . यहाँ पर डायल 100 के एक पुलिस वाहन को निशाना बनाया गया है . आपसी झगड़े में सीधे सीधे पुलिस पर टारगेट किया गया और दुस्साहसिक रूप से अपने साथी को बचाने की कोशिश की जो उस समय पुलिस कस्टडी में था . इस घटना को अंजाम दिया गया मुज़फ्फरनगर जिले के भोपा थाने में जहाँ क्षेत्र था मोरना का सहकारी सस्ते गल्ले की दूकान .

यहाँ से एक विवाद के बाद उस विवाद की सूचना यूपी डायल 100 पुलिस को दी गयी थी . पुलिस ने मामले की गम्भीरता देखते हुए पुलिस ने दो व्यक्तियों को गाडी में बैठा लिया, लेकिन तब तक उन्मादी सक्रिय हो चुके थे और उन्होंने पहले से तैयारी कर के बैठे कुछ उन्मादियो ने डायल 100 की गाडी पर हमला किया और पुलिस वालों को लाठी डंडे से पीटा और अपराधी को छुडवा ले गये . अब तक इस अतिदुस्सह्सिक मामले में पुलिस ने आधा दर्जन को नामजद कर आरोपी बनाया है तथा पांच व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया अब तक प्रकाश में आये नामों में आस मौहम्मद सीकरी, इकरामुदीन, मुस्तकीम, साबिर और निसार हैं . सूचना पर दौडे थाना भोपा प्रभारी निरीक्षक मगनवीर सिंह ने आरोपियों को दौडा लिया तथा मौके से पांच आरोपियों को धर लिया जबकि आस मौहम्मद फरार हो गया।

Share This Post