क्या आतंकियों नहीं बल्कि खालिस्तानियों के दम पर भारत को ललकार रहा था इस्लामिक आतंकी जाकिर मूसा.. ? सामने आ रहा नया गठजोड़

हिंदुस्तान को गजवा ए हिन्द बनाने का सपना देखने वाला, हिंदुस्तान की बर्बादी के सपने देखने वाला दुर्दांत इस्लामिक आतंकी जाकिर मूसा खालिस्तानियों के दम पर भारत को ललकारता है? इस्लामिक आतंकी जाकिर मूसा का नया गठजोड़ तो ऐसा ही कुछ इशारा करता है. आपको बता दें कि पंजाब के जालंधर में एक इंजीनियरिंग कॉलेज के हॉस्टल से कुछ दिन पहले गिरफ्तार किए गए कश्मीरी आतंकियों ने सनसनीखेज खुलासा किया है. पूछताछ के दौरान जम्मू-कश्मीर पुलिस और पंजाब पुलिस की साझा टीम को इन आतंकियों ने बताया है कि अंसार गजवत उल हिंद का सरगना जाकिर मूसा सुरक्षा में सेंध लगाता हुआ जालंधर तक पहुंचा था. इस संगठन को भारत में अल कायदा का मुखौटा कहा जाता है.

कश्मीर से गिरफ्तार हुआ एक ओवरग्राउंड वर्कर (ओडब्ल्यूजी) लगातार जाकिर मूसा के संपर्क में था. मूसा के कहने पर ही उसने जालंधर में रह रहे कश्मीरी युवाओं तक हथियार पहुंचाए थे. जांच में यह खुलासा हुआ है कि अंसार गजवत उल हिंद पंजाब में दबे पांव चल रहे “2020 रेफरेंडम” की आग भड़काना चाहता है. इसी के चलते जाकिर मूसा पंजाब गया था ताकि वह गुमराह सिख युवकों को आतंकी संगठन में शामिल कर सके. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि चारों गिरफ्तार युवा जाकिर मूसा के भाई रफीक भट के संपर्क में थे. ये सभी स्कूल में दोस्त हुआ करते थे. घाटी में सक्रिय आतंकी संगठन अब अपनी पकड़ राज्य के बाहर भी बनाना चाहते हैं. यही कारण है कि वे अब पंजाब में कट्टरपंथी युवाओं को देशविरोधी गतिविधियों में शामिल करवाने की फिराक में हैं.

पुलिस द्वारा गिरफ्तार आतंकियों ने यह भी बताया कि आतंकी संगठन अंसार गजवत उल हिंद नई दिल्ली में किसी बड़े सुरक्षा संस्थान को निशाना बनाना चाहता था, ताकि वह लोकसभा चुनाव से पहले राष्ट्रीय राजधानी में आतंकवाद वारदात कर बड़ा संदेश दे सके. इस साजिश को अंजाम देने के लिए ही हथियार कश्मीर घाटी से जालंधर पहुंचाए गए थे और इन्हें आगे नई दिल्ली पहुंचाया जाना था. पुलिस इस मामले में किसी भी कड़ी को नजरअंदाज नहीं करना चाहती है. इसी के चलते पुलिस ने कई और गिरफ्तारियां भी की हैं. पुलिस इस मामले में हनी ट्रैप के एंगल को भी खंगाल रही है क्योंकि गिरफ्तार युवकों के मुताबिक इसमें कुछ लड़कियां भी शामिल थी.

सूत्रों ने बताया कि जल्द ही कुछ लड़कियों को गिरफ्तार किया जा सकता है. सूत्रों की मानें तो पंजाब पुलिस भी जल्द कई और गिरफ्तारियां कर सकती हैं जिसके बाद इस आतंकी नेटवर्क से जुड़े कई और नाम सामने आने की उम्मीद है. जम्मू-कश्मीर पुलिस और पंजाब पुलिस की संयुक्त टीम ने जालंधर के शाहपुर स्थित सीटी इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी के छात्रावास पर छापा मारकर तीन कश्मीर छात्रों को गिरफ्तार किया था. उनके पास से असॉल्ट राइफल, एक पिस्टल और गोला-बारूद बरामद हुआ था. छात्रावास में रहने वाले जाहिद गुलजार नाम के छात्र के कमरे से ये गिरफ्तारियां हुई थीं. पुलिस ने जाहिद के साथ मोहम्मद इद्रीश शाह और यूसुफ रफीक भट्ट को भी गिरफ्तार किया था.

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *