भारत के विदेश मंत्रालय की सभा में मौजूद रहा एक ऐसा देश जिसको माना जाता है इस्लामिक आतंकियों का सबसे बड़ा काल

निश्चित रूप से इसको कुछ बड़ा होने का संकेत माना जा रहा है.. भारत के खिलाफ जो दुस्साहस दिखाया गया है उसका माकूल जवाब देने का समय इसको सबसे बेहतर माना जा रहा है और इसको देश मांग भी रहा है ..अब भारत एक्शन में है, और पाकिस्तान के खिलाफ बड़ी और ऐतहासिक कार्यवाही की रुपरेखा बनाने का काम शुरू किया जा चुका है..इसी के तहत भारत ने दुनिया भर के देशों से बात शुरू कर दी है जो की भारत के करीब माने जाते है..

विदेश मंत्रालय एक्टिव हो गया है और दिल्ली में तैनात अलग अलग मित्र देशों के राजदूतों को मीटिंग के लिए बुलाया गया है.. अब तक मीटिंग में इजराइल, रूस, ब्रिटेन, जर्मनी, हंगरी, जापान, यूरोपियन यूनियन, कनाडा इत्यादि के प्रतिनिधि पहुँच चुके है.. इसमें  सबसे ज्यादा इजरायल प्रसांगिक है जिसको दुनिया के सभी इस्लामिक आतंकी अपना काल के रूप में देेखते हैं.. भारत पाकिस्तान के खिलाफ ऐतहासिक कार्यवाही की रुपरेखा बनाने में लग चुका है, और अब कई देशों को विश्वास में लेने का काम शुरू हो गया है..

इस से पहले इजराइल ने भारत के हर तरह से समर्थन और सहयोग का भी ऐलान किया है, और अब कई देशों के प्रतिनिधि मोदी सरकार से मीटिंग भी कर रहे है, जल्द ही पाकिस्तान को इतिहास की एक सबक मिल सकती है.. इजरायल की डिप्लोमैट माया कड़ोस व इजरायल के प्रधानमंत्री का भारत के पक्ष में खुल कर बयान इस समय पाकिस्तान के रोंगटे खड़े कर रहा है ..

Share This Post