एयर कंडीशन कमरों से न्यूज़ पढने की जगह पिछले कई दिनों से ठुमके लगा रही थीं पाकिस्तानी एंकर.. भारतीय विमानों के बमों की आवाज सुनकर फिर से आ गई न्यूज़ पर

14 फरवरी के दोपहर तक सब ठीक था. लेकिन उसके बाद जो हुआ उससे पूरा हिंदुस्तान शोक में डूब गया. इस्लामिक आतंकी दल जैश ए मोहम्मद ने कश्मीर के पुलवामा में CRPF के काफिले पर हमला कर दिया तथा इस हमले में 40 से ज्यादा जवान बलिदान हो गये. एकाएक 40 से ज्यादा जवानों को खोने के बाद देश आंसुओं के सागर में डूब गया. देश समझ नहीं पा रहा था कि ये क्या हुआ? आँखों क्रोध की ज्वाला तथा आंसुओं को लिए हिंदुस्तान की जनता एक ही मांग कर रही थी कि उन्हें इस हमले का बदला चाहिए.

पुलवामा हमले के बाद एकतरफ जहाँ हिंदुस्तान नम आँखों से बलिदानियों को श्रद्धांजलि दे रहा था तो वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तानी मीडिया एंकर एक अलग ही रूप में नजर आ रहे थे. पाकिस्तानी महिला एंकर एयर कंडीशन कमरों से न्यूज़ पढने के बजाय एक तरह से ठुमके लगा रही थी तथा हिंदुस्तान को धमकिया दे रही थी, हिंदुस्तान का मजाक उड़ा रही थी. एकतरफ पाकिस्तानी नेता पुलवामा हमले के बाद भी आँख दिखा रहे थे तो पाकिस्तानी मीडिया एंकर न्यूज़ रूम से भारत के खिलाफ आग उगल रहा था. लेकिन शायद पाकिस्तानी हुक्मरानों तथा वहां की मीडिया ये बात भूल गई थी कि अब भारत बदल गया है.

पाकिस्तान भूल गया था कि वर्तमान का भारत वो नया भारत है जो दुश्मन के घर में घुसेगा भी और मारेगा भी. और जा वो दिन आ गया जब भारतीय वायुसेना ने LOC पार करते हुए आतंकी ठिकानों पर भीषण बमबारी की तथा 300 से ज्यादा इस्लामिक आतंकियों को मार गिराया. भारतीय वायुसेना की इस कार्यवाई के बाद जहाँ पाकिस्तानी हुक्मरानों की जुबान पर ताला लग गया तो वहीं पाकिस्तानी एंकर ठुमके लगाने के बजाय कायदे से न्यूज़ पढना शुरू कर दिए हैं.

Share This Post