Breaking News:

इजराइली प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने लिया ऐसा फैसला, जिससे कांप उठे फिलिस्तीनी उन्मादी

मजहबी चरमपंथ के खिलाफ हमेशा से रौद्र रूप अख्तियार करने वाले इजराइल के रूख में कोई बदलाव होता नहीं आ रहा है. इजराइल सरकार के एक नए फैसले से फिलिस्तीनी उन्मादियों कीशामत आए गई है.. इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने मृत्युदंड विधेयक के लिए मंजूरी दे दी है जिससे अदालतों के लिए इजरायलियों या इजराइली सैनिकों को मारने वाले फिलीस्तीनियों को मौत की सजा सौंपनी आसान हो जायेगी.

यद्यपि इजरायल के पास मृत्युदंड की अनुमति देने वाला कानून है, कानून के तहत मृत्युदंड केवल तीन न्यायाधीशों के पैनल से सर्वसम्मति से निर्णय द्वारा लगाया जा सकता है. हालांकि, 1962 से कोई निष्पादन नहीं किया गया है. बता दें कि ये बिल इजराइली रक्षा मंत्री अवीगडोर लिबरमैन की यिसराइल बेटेनू पार्टी द्वारा प्रस्तावित किया गया था, जिसे नेतन्याहू ने समर्थन दे दिया. यह बिल तीन न्यायाधीशों के एक पैनल द्वारा अनुमोदन की आवश्यकता को हटा देगा, जिससे दोनों नागरिक और सैन्य अदालतें बहुमत के निर्णय के साथ फिलिस्तीनियों को निष्पादित करने की अनुमति देगी। केसेट में अपने पहले पढ़ने के लिए कानून तैयार करने के लिए, बिल अगले कुछ दिनों में संविधान, कानून और न्याय समिति में लाया जाने की उम्मीद है।

मीडिया सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक़, इज़राइली समाचार साइटों द्वारा रिपोर्ट किया गया है कि इजरायली प्रधान मंत्री, बेंजामिन नेतन्याहू ने कानून में एक बिल पारित करने की मंजूरी दे दी है जो रविवार को फिलिस्तीनी कैदियों के निष्पादन की अनुमति देता है. कैदियों के अधिकार समूह ‘Addameer’ के अनुसार, वर्तमान में इजरायली जेलों में 5,640 फिलिस्तीनी कैदी हैं.

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *