Breaking News:

कांग्रेस में खामोश कर दिए गये दिग्विजय… खुद माना कि बोलता हूँ तो कट जाते हैं वोट

अपने विवादित बयानों के लिए जाने जाने वाले मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री तथा कांग्रेस पार्टी के कद्दावर नेता दिग्विजय सिंह जिन्हें एक समय कांग्रेस का चाणक्य कहा जाता था, अब कांग्रेस में खामोश कर दिए गये हैं? वो दिग्विजय सिंह जो न सिर्फ सोनिया गांधी बल्कि राहुल गांधी के भी ख़ास माने जाते थे, अब कांग्रेस उन्हें दरकिनार कर रही है तथा उन्हें साइडलाइन करना चाहती है? दिग्विजय का वायरल विडियो तो शायद यही इशारा करता है जिसमें वह कहते हुए नजर आ रहे हैं कि वह पार्टी के लिए इसलिए प्रचार नहीं करते क्योंकि बोलने से पार्टी के वोट काट जाते हैं. दिग्विजय सिंह का ये विडियो सामने आने के बाद दिग्विजय समर्थक कांग्रेस हईकमान के प्रति आक्रोशित हैं तथा कांग्रेस में खलबली मच गयी है.

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री तथा कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह का सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है. जिसमें वह कार्यकर्ताओं से दो टूक कह रहे हैं- ‘मेरे भाषण से कांग्रेस के वोट कटते हैं, इसलिए मैं रैलियों में नहीं जाता.’ दिग्विजय सिंह का यह वीडियो उस वक्त बना, जब वह मध्यप्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी के सरकारी बंगले पर पहुंचे थे. इस दौरान बाहर निकलते समय कार्यकर्ताओं से रूबरू हुए थे. बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के मध्यप्रदेश में होने वाले भाषणों में राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और कभी कांग्रेस के चाणक्य कहे जाने वाले वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह का नाम नहीं होता, वो खुद पूरे राज्य में भले ही घूम घूमकर नाराज़ कार्यकर्ताओं को मनाने और समन्वय का काम कर रहे हों लेकिन कभी कभी उनकी नाराज़गी सार्वजनिक रूप से जाहिर हो ही जाती है.

दिग्विजय सिंह मध्य प्रदेश इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी के घर पहुंचे थे. मीटिंग के बाद बाहर निकलते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं से उनका सामना हो गया. इसमें ज्यादातर कार्यकर्ता दिग्विजय सिंह के करीबी थे और उन्हीं के इंतजार में बाहर खड़े थे. इस दौरान दिग्विजय सिंह ने साफ शब्दों में कार्यकर्ताओं से कहा, ‘देखते रह जाओगे. ऐसे सरकार नहीं बनेगी. जिसको टिकट मिले, चाहे दुश्मन को टिकट मिले, जिताओ.’ उन्होंने आगे कहा, ‘मेरा काम सिर्फ एक है- कोई प्रचार नहीं, कोई भाषण नहीं. मेरे भाषण देने से तो कांग्रेस के वोट कटते हैं इसलिए मैं कहीं जाता ही नहीं.’ बता दें कि न सिर्फ राहुल गांधी के भाषणों से बल्कि कांग्रेस अध्यक्ष के भोपाल में हुए रोड शो और भेल दशहरा मैदान में हुई रैली स्थल पर भी नौ बड़े नेताओं के विशाल कटआउट लगे थे सिवाय दिग्विजय सिंह के. हालांकि बाद में  प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने उनसे माफी भी मांगी थी. इन सब बातों को देखते हुए माना जा रहा है कि दिग्विजय सिंह ने आखिरकार दिल की बात कार्यकर्ताओं से कह ही दी तथा अब कांग्रेस पार्टी में एक बार पुनः दो फाड़ होने की नौबत आ सकती है.

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *