वन्देमातरम और भारत माता की जय न करने वाला केजरीवाल की नजर में देशभक्त है तो जानिए कौन है उनके हिसाब से देशद्रोही ?

ये एकदम नई परिभाषा दी गयी है केजरीवाल के द्वारा..भले ही वो भारत माता की जय या वन्देमातरम न कहे लेकिन वो केजरीवाल की नजर में देशभक्त हो सकता है..लेकिन सवाल उठता था कि तब आखिर देशद्रोहों कौन है..आखिरकार केजरीवाल ने अपने दृष्टिकोण को इस मुद्दे पर रख ही दिया ..लोकसभा चुनाव के नजदीक आते ही राजनीतिक दलों के बीच आरोप-प्रत्‍यारोप का दौर भी शुरू हो गया है।

इसी कड़ी में दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की देशभक्‍ति पर सवाल उठाते हुए बड़ा बयान दिया है। अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट में लिखा, ‘मोदी भक्त कभी देश भक्त नहीं हो सकता और देश भक्त कभी मोदी भक्त नहीं हो सकता. अब समय आ गया है – आपको तय करना होगा कि आप देशभक्त हो या मोदीभक्त?’ अरविंद केजरीवाल के इस ट्वीट ने राजनीतिक गलियारों में हंगामा मचा दिया है। बीजेपी ने आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल पर हमला बोलते हुए कहा कि केजरीवाल ने देश का अपमान किया है।

केजरीवाल के इस ट्वीट पर अभी हंगामा शांत भी नहीं हुआ था कि उन्होंने केंद्र सरकार पर स्कूल बनने से रोकने के आरोप लगाए। दिल्ली के मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा, ‘मोदी सरकार ने दिल्ली में स्कूल बनने से रोका। लड़ झगड़ के चार साल बाद आज 11,000 कमरे बनने शुरू हुए। आपको सोचना है कि आप अपने बच्चों से प्यार करते हो या मोदी जी से. बच्चों से प्यार करते हो तो आआप को वोट देना।मोदी जी को वोट दोगे तो वो फिर से आपके बच्चों के स्कूल बनने से रोकेंगे।’

गौरतलब है कि साल 2014 के लोकसभा चुनाव में आप दिल्ली में खाता खोलने में भी नाकामयाब रही थी, जबकि बीजेपी ने सातों सीटों पर कब्‍जा जमाया था। वहीं सूत्रों के मुताबिक, मोदी सरकार को हटाने के लिए आम आमदी पार्टी ने आगामी लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस की तरफ गठबंधन का हाथ बढ़ाया है। हालांकि कांग्रेस की ओर से अभी तक अरविंद केजरीवाल को कोई जवाब नहीं दिया गया है।

Share This Post