नहीं है हमे शौक उनकी मस्जिदों में जाने की, वो क्यों हमारे मंदिरों में आते हैं”– भाजपा विधायक का ज्वलंत सवाल

वो कहते हैं कि उनके मजहब में अल्लाह के अलावा किसी और की इबादत नहीं की जाती तथा इसी कारण वह भारतमाता की जय तक बोलने से इनकार कर देते हैं, लेकिन उसके बाद भी आखिर वह हमारे मंदिर क्यों जाते हैं? हम जब उनकी मस्जिदों में नहीं जाते हैं तो आखिर वह हमारे मंदिरों में क्यों आते हैं? मंदिर हिन्दुओं का धार्मिक स्थल है वहां राम, कृष्ण, महादेव, दुर्गा, काली, गणेश, हनुमान आदि देवी देवताओं की पूजा अर्चना होती है, जिसकी इन लोगों को इजाजत नहीं है फिर भी आखिर किस सोच तथा साजिश के तहत ये लोग हमारे मंदिरों में जाते हैं? हमें इस साजिश को समझना होगा तथा बेनकाब व् असफल करना होगा.

ये बयान है भारतीय जनता के एक विधायक का जिस पर विवाद खड़ा हो गया है. उत्तराखंड के रुद्रपुर से भारतीय जनता पार्टी के विधायक राजकुमार ठुकराल ने कहा कि , ‘कुछ बाहरी लोग यहां आकर हिंदुओं के पूजास्थल अपवित्र करते हैं. जब हम लोग मस्जिद नहीं जाते हैं तो फिर क्यों वे लोग मंदिरों में आते हैं? आखिर उनका ऐसा करने का मकसद क्या है? बीजेपी विधायक ने कहा, ‘यदि मंदिरों की हालत में सुधार नहीं होता है तो हिंदू संगठन अपने स्तर पर हालात को नियंत्रित करेंगे. जो लोग धर्म परिवर्तन और लव जिहाद के जरिए हिंदू संस्कृति को चोट पहुंचा रहे हैं, उन्हें हम बर्दाश्त नहीं करेंगे.

बता दें कि 22 मई को मुस्लिम समुदाय के एक युवक को हिन्दू समुदाय की युवती के साथ हिंदूवादी संगठनों ने काशीपुर के तीन युवकों को पकड़ा था. हिन्दू युवती के साथ मुस्लिम समुदाय के युवक के गर्जिया मंदिर में प्रवेश से भड़के हिंदूवादी संगठनों के कार्यकर्ताओं ने पुलिस बुलाकर युवक को उसके हवाले कर दिया था तथा युवको जमकर खरीखोटी सुनाएँ था व् लव जिहाद की साजिश के बारे में बताया था. हिंदूवादी संगठनों ने कहा था कि हिन्दू युवतियों को बहला फुसलाकर मंदिर ले जाकर उनको लव जिहाद में फंसाने का ये तरीका निकाला गया है जिसे किसी भी हालात में स्वीकार नहीं जायेगा. इसी पर बीजेपी विधायक ठुकराल ने कहा है कि आखिर ये लोग हमारे मन्दिर क्यों आते हैं, हमें इस पर नजर रखनी होगी.

Share This Post

Leave a Reply