“कोई भी पुलिस अधिकारी नहीं दे रहा इस्तीफा, वायरल हो रहे वीडियो मात्र एक अफवाह” – गृह मंत्रालय और कश्मीर पुलिस सफाई देनी पड़ी आख़िरकार गृह मंत्रालय को .

मीडिया रिपोर्ट्स में आ रही खबरों के साथ साथ सोशल मीडिया पर वायरल किये जा रहे मैसेज के बीच में आखिरकार गृहमंत्रालय और कश्मीर पुलिस को सफाई देनी पड़ी है . एक के बाद एक पुलिस वालों के इस्तीफे के बयानों के बीच में गृह मंत्रालय ने उन खबरों से इनकार कर दिया है जिसमें कहा गया था कि जम्‍मू कश्‍मीर के शोपियां से अगवा तीन एसपीओ की हत्‍या के बाद राज्‍य के सात पुलिसकर्मी इस्‍तीफा दे चुके हैं।

इस अतिसंवेदनशील मामले में भारत सरकार गृह मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया मीडिया के एक वर्ग से ऐसी खबरें आ रही हैं जिसमें कहा जा रहा है कि राज्‍य के कुछ स्‍पेशल पुलिस ऑफिसर्स (एसपीओ) ने इस्‍तीफा दे दिया है। गृह मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि जम्‍मू कश्‍मीर पुलिस की ओर से भी इस तरह की खबरों को गलत बताया गया है। गृह मंत्रालय ने इन खबरों को शरारती तत्‍वों की साजिश करार दिया है। साथ कहा है कि ये खबरें झूठे प्रपोगैंडे का हिस्‍सा है जिसे शरारती तत्व आगे बढ़ा रहे हैं। गृहमंत्रालय ने आगे ऐसे किसी भी खबर को वायरल न करने की भी सलाह दी है .

खास बात है कि ऐसे कई वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आए जिसमें कुछ एसपीओ ने अपने इस्‍तीफे का ऐलान कर रहे हैं। ये खबरें तब आई थीं जब शोपियां में तीन एसपीओ के गोलियां से छलनी शव पुलिस को मिले थे। आतंकियों ने शुक्रवार तड़के चार पुलिसकर्मियों को अगवा कर लिया था जिसमें एक को आतंकियों ने रिहा कर दिया था। इस मामले पर डीजीपी दिलबाग सिंह का कहना है, ‘पुलिस जनता के लिए काम करती है, किसी को नुकसान पहुंचाने के लिए नहीं। पुलिस जवानों को लेकर किसी भी तरह की अफवाहें नहीं फैलाई जानी चाहिए। अगर ऐसी कोई घटना होती है तो हम उसकी पड़ताल करेंगे।’ डीजीपी सिंह ने कहा कि सभी पुलिस वाले अपनी ड्यूटीज को काफी अच्‍छे से कर रहे हैं। यद्दपि अभी तक ये साबित नहीं हो पाया है की वीडियो जारी करने वाले SPO सच में पुलिस से सम्बन्धित हैं या मात्र किसी साजिश को रच कर सामने आ रहे कुछ लोग .

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *