Breaking News:

फराह ने इंटरवियु के बाद कम्पनी के अधिकारी से हाथ मिलाने से मना करते हुए कहा – “तुम गैर मर्द हो, हाथ नहीं मिला सकती”. फिर उसी कम्पनी पर आ गयी आफत

ये घटना उस स्वीडन की है जिसको विकसित देशो में गिना जाता है और पढ़े लिखे व् आधुनिक विचारधारा वाले लोगों का देश कहा जाता है . यहाँ पर अभी हाल में ही एक इस्लामिक संस्था ने स्वीडिश लोगों से दूर रहने को कहा था क्योंकि वो काफिर हैं. अब उसी देश में एक और ऐसा मामला आया है सामने जो एक बार वहां के व्यापरियों और बड़ी कम्पनियों को सोचने पर मजबूर कर देगा किसी मुस्लिम कर्मचारी को अपने यहाँ नौकरी देने से पहले .

ज्ञात हो की एक स्वीडिश मुस्लिम महिला ने नौकरी के साक्षात्कार समाप्त होने पर इंटरव्यू लेने वाले से हाथ मिलाने से इंकार कर दिया था. कम्पनी में इंटरव्यू खत्म होने के बाद धर्मनिरपेक्ष अधिकारी ने उसकी तरफ हाथ बढ़ाया था औपचारिकता के और वहां के शिष्टाचार नाते मिलाने के लिए जिसको 24 वर्षीय फराह अलहाजह ने ये कहते हुए इंकार कर दिया कि तुम गैर मर्द हो जिस से हाथ मिलाने का हमारे इस्लामिक कानून में कोई प्रावधान ही नही है ..

इसके बाद उस अधिकारी ने इसको अपनी तौहीन समझा और फराह को दुभाषिये की नौकरी देने से मना कर दिया .. फराह इसके फ़ौरन बाद इसको अपने अपमान व् अपने साथ हुए अन्याय से जोड़ दिया .. दुनिया भर के कई मुसलमानों ने फराह के लिए हो हल्ला मचाना शुरू कर दिया जिसके चलते उस कम्पनी की साख काफी गिर गयी .. इतना ही नहीं , फराह इस मामले को अदालत तक ले गयी जिसमे उन्होंने अपने साथ अन्याय की बात कही .. फराह को सही मानते हुए आख़िरकार स्वीडिश श्रम अदालत ने भी उसी कम्पनी पर गाज गिराई और फैसला सुनाया कि कंपनी ने उसके खिलाफ भेदभाव किया और मुआवजे में 40,000 क्रोनर का भुगतान करे .. इतना ही नहीं , स्वीडिश अदालत ने उस कम्पनी पर मुस्लिम विरोधी और महिला विरोधी होने तक का आरोप लगा दिया ..  डीओ की प्रक्रिया इकाई के निदेशक मार्टिन मोर्क ने कहा, ‘यह एक कठिन मुद्दा है और इसलिए हमने अदालत के परीक्षण के लिए महत्वपूर्ण माना।’

Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *